[ujjain] - गैर मुस्लिमों का गांव, मनोकामना पूरी होने पर पीर को चढ़ाते हैं चूरमा

  |   Ujjainnews

उज्जैन. शहर से 25 किमी दूर चंद्रावतीगंज के पास एक गांव है मुंडला सुलेमान। यहां एक दरगाह है, किसी को पता नहीं कि यह दरगाह किसकी है, लेकिन गांव के लोगों की इसके प्रति अगाध आस्था है। लोगों का मानना है कि यहां फरियाद करने से हर मनोकामना पूर्ण होती है।

आषाढ़ की अमास्या पर लगता है मेला

आषाढ़ की अमावस्या पर यहां हजारों लोग पहुंचते हैं। साल में एक बार आषाढ़ की अमावस्या पर यहां हजारों लोग पहुंचते हैं और घर के बाहर बनाया हुआ चूरमा दरगाह पर चढ़ाते हैं। शुक्रवार को यहां मेला लगा और गांव की आबादी से कई गुना ज्यादा लोग यहां मनोकामना लेकर पहुंचे। लोग इसे पीरबाबा की दरगाह कहते हैं। गांव के बुजुर्गों का कहना है कि वे बचपन से इसे देखते आ रहे हैं। दरगाह पर चूरमा चढ़ाने की परंपरा वर्षों से है। माना जाता है कि इस स्थान पर हर मनोकामना पूर्ण होती है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/GDrnegAA

📲 Get Ujjain News on Whatsapp 💬