घर🏠 बुलाकर दो पुलिसकर्मियों👮 ने कर दी एलआईसी एजेंट की 🔪हत्या

  |   समाचार

लोग पुलिस को खुद का रक्षक मानते हैं। उनका मानना होता है कि पुलिस कोई आपराधिक परेशानी आने पर पुलिस उनकी मदद करेगी, लेकिन दिल्ली के सराय रोहिल्ला रेलवे कॉलोनी में दो पुलिसकर्मियों ने ही एक एलआईसी एजेंट को अपने घर बुलाकर उसकी हत्या कर दी।

25 साल के इस एजेंट की हत्या का आरोप आरपीएफ के एक बर्खास्त सिपाही और यूपी पुलिस के एक सिपाही पर लगा है। यह वारदात 19 जुलाई को हुई है। पुलिस इस मामले में केस दर्ज करके जांच कर रही है। हत्या की वजह पता नहीं चल पाई है। रेलवे कॉलोनी में एक फ्लैट आरपीएफ के सिपाही अजय सिंह को अलॉट हुआ था। वह नशे का आदी था। शराब की लत और उसके गुस्सैल रवैये की वजह से विभाग ने उसे बर्खास्त कर दिया था। अजय सिंह का एक दोस्त सर्वेश यूपी पुलिस में सिपाही है।

बताया जा रहा है कि मृतक प्रेम कुमार एक एलआईसी एजेंट था। उसने अजय सिंह के घरवालों का बीमा किया था। 19 जुलाई को अजय ने प्रेम को अपने फ्लैट पर बुलाया। उस समय उसका दोस्त सर्वेश भी मौजूद था। उसने सर्वेश की 1 करोड़ की बीमा पॉलिसी करने के बहाने प्रेम को बुलाया था। इसी बीच उन लोगों के बीच विवाद हो गया।

इसके बाद अजय और सर्वेश ने प्रेम की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद एक बक्से में उसकी लाश को रखकर यूपी के गंग नहर में बहा दिया। इसके बाद प्रेम के घरवालों ने उसकी तलाश शुरू कर दी। उसका फोन स्विच ऑफ आ रहा था। इस पर परिजनों ने सराय रोहिल्ला थाने में उसकी गुमशुदगी की सूचना दी।

इसी बीच परिजनों ने पुलिस को सूचना दी कि प्रेम अजय और सर्वेस के पास गया था। प्रेम की बहन ने सर्वेश को कॉल किया, तो उसने बताया कि वह उसकी पॉलिसी करने आया था, लेकिन कुछ देर बाद वहां से चला गया। इसके बाद पुलिस ने अपना जाल बिछाया। अजय और सर्वेश के फोन सर्विलांस पर लगा दिए। इतना करते ही पुलिस को क्लू मिल गया।

पुलिस के मुताबिक, अजय और सर्वेश के बीच हुई बातचीत के आधार पर इस मामले का खुलासा हो गया। अजय सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसकी सूचना मिलते ही सर्वेश फरार हो गया। उसकी तलाश में पुलिस की टीम दबिश दे रही है।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/LFW3LwAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬