🇵🇰 पाकिस्तान चुनाव 🗳️ में इस बार कश्मीर नहीं पीएम मोदी और भारत 🇮🇳 का मुद्दा हावी

  |   Hindiworldnews

पाकिस्तान में दो दिन बाद चुनाव होने हैं। इस बार उम्मीदवारों के लिए मोदी और भारत चुनावी रणनीति का मुख्य हिस्सा बन रहे हैं। जबकि हर बार कश्मीर ही बड़ा मुद्दा हुआ करता था। उम्मीदवार 100 सीटों के लिए मोदी और भारत को ही मुद्दा बना रही हैं।

पीएमएल-एन पार्टी के अध्यक्ष और पीएम उम्मीदवार शहबाज शरीफ ने रविवार को रैली को संबोधित करते हुए कहा कि यदि वह अपने दुश्मन भारत से पाकिस्तान को आगे नहीं लेकर गए तो उनका नाम बदल दिया जाए। अगर वह पीएम बने तो भारतीयों को वाघा बॉर्डर तक ले आएंगे और भारतीय पाकिस्तान को आका बोलेंगे।

चुनावी रैलियों में अन्य पार्टियां भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की दोस्ती का मुद्दा लगातार उठा रही हैं। पीपीपी और पीटीआई नेता अपनी रैलियों में भारत के खिलाफ बोल रहे हैं। वहीं पीटीआई तो हर रैली में एक ही नारा लगा रही है, 'मोदी का जो यार है, वो गद्दार है।

बलूचिस्तान में भी भारत को ही चुनाव जीतने के लिए मुद्दा बनाया जा रहा है। यहां की क्षेत्रीय पार्टी बलूचिस्तान आवामी पार्टी (बीएपी) भारत के खिलाफ बोल रही है। पार्टी का कहना है कि 13 जुलाई को मस्तूंग विस्फोट में भारत का हाथ था।

यहां देखें फोटो- http://v.duta.us/eb3GPAAA

📲 Get विश्व समाचार on Whatsapp 💬