[banswara] - इतने तो बांसवाड़ा में बांस भी नहीं है जितने इस सडक़ पर गड्ढे हैं... आखिर कैसे कहे इसे राष्ट्रीय राजमार्ग

  |   Banswaranews

बांसवाड़ा. जिले में राष्ट्रीय राजमार्गों पर सफर करना दुश्वार होता जा रहा है। राष्ट्रीय राजमार्ग 927-ए की हालत सबसे खस्ता है। बांसवाड़ा से अगरपुरा तक के मार्ग में अनगिनत गड्ढे हो गए हैं। इसके कारण महज 40 किलोमीटर की दूरी तय करने में दो घंटे से अधिक समय लग रह है। गड्ढों के चलते हालात यह हैं कि वाहन चलाते समय जरा सी चूक होने पर हादसे का भय बना रहता है। जिला मुख्यालय से लेकर पूरे मार्ग पर गड्ढे ही गड्ढे हैं। इस मार्ग पर प्रमुख रूप से लोधा के अलावा मयूर नगर के बाहर, कूपड़ा, सुंदनपुर, तलवाड़ा, कोहाला, वजवाना, भीमसौर, खेड़ा, परतापुर, गढ़ी, मोर और अगरपुरा गांव आते हैं और इन गांवों के बस स्टैंड और इसके आसपास ही बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं, जिन्हें पार कर आगे जाना लोगों की मजबूरी बना हुआ है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/TmWzKQAA

📲 Get Banswara News on Whatsapp 💬