[chhindwara] - खुलेआम घूमकर बीमारी फैला रहे टीबी के मरीज

  |   Chhindwaranews

शासकीय योजना का साइड इफेक्ट: घर पर ही इलाज मिलने से मरीज हुए लापरवाह

खुलेआम घूमकर बीमारी फैला रहे टीबी के मरीज

18 माह में 275

मरीज आए सामने

6 माह में 95 मरीजों

का हुआ उपचार

पंाढुर्ना. सरकार ने टीबी के मरीजों के लिए डॉट्स की सेवा प्रारंभ कर के अपनी सेवा निर्धारित कर दी परंतु आज स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के कारण इस सेवा का कोई महत्व नही रह गया है। डॉट्स के कारण जहां टीबी के मरीजों की संख्या में कमी आनी चाहिए थी परंतु इसके विपरीत टी बी के मरीजों में दिन ब दिन बढ़ोत्तरी होते जा रही है। बीते 10-12 वर्षों पहले सरकार के द्वारा टीबी को नियंत्रण में रखने के लिए टीबी के स्पेशल अस्पताल हुआ करते थे। जहां मरीजों की बीमारी ठीक होने तक भर्ती करके रखा जाता था। सरकार ने इन अस्पतालों को बंद कर डॉट्स की सेवा शुरू कर दि। आज इसका साइड इफेक्ट आम लोगों को गंभीर बीमारी टीबी के चपेट में ला रहा है। सैकड़ों टीबी के मरीज खुलेआम घूम रहे है। आलम ये है कि इनकी खांसी की वजह से स्वस्थ्य व्यक्ति भी इस बीमारी की चपेट में आ रहा है। ...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/yW61JgAA

📲 Get Chhindwara News on Whatsapp 💬