[madhya-pradesh] - मध्यप्रदेश: मदद करने के बहाने 4 आदमियों ने नाबालिग को बनाया हवस का शिकार

  |   Madhya-Pradeshnews

एक नाबालिग दलित लड़की का 4 आदमियों ने तीन दिनों तक बलात्कार किया। इसमें ऐसे दो लोग शामिल हैं जिन्होंने उसे देवास जिले स्थित उसके घर पहुंचाने का वादा करके गैंगरेप किया। यह जिला राजधानी भोपाल से 153 किलोमीटर की दूरी पर है। पुलिस का कहना है कि उसने चारों आरोपियों को पकड़ लिया है। नाबालिग के साथ बलात्कार और गैंगरेप की घटना अलग-अलग तीन जगहों पर तीन दिनों तक हुई।

नेमावार के पुलिस निरीक्षक सज्जन सिंह मुकाती ने कहा, '15 साल की पीड़िता 16 जुलाई को अपने घर से 40 किलोमीटर दूर इंदौर अकेले एक आदमी से मिलने के लिए गई थी। उसने अपने माता-पिता को इसके बारे में नहीं बताया था। हालांकि उसे वह शख्स नहीं मिला। इसके बाद लड़की ने देवास स्थित अपने घर वापस जाने के लिए उसी दिन बस पकड़ी लेकिन वह यात्रा के दौरान सो गई। जब वह सोकर उठी तो उसने खुद को सीहोर के नसरुल्लाहगंजा शहर में पाया। यह स्थान उसके घर से 150 किलोमीटर दूर है। बस कंडक्टर इश्वर जाट ने लड़की को मदद करने का आश्वासन दिया और उसे एकांत जगह ले गया। वहां उसने पूरा रात नाबालिग का बलात्कार किया। अपराध करने के बाद वह उसे वहीं छोड़कर चला गया।'...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/4ChPxwAA

📲 Get Madhya Pradesh News on Whatsapp 💬