[pali] - तस्कर कर रहे फायर, पुलिस फटकार रही डंडा

  |   Palinews

पाली . डोडा-पोस्त के साथ ही शराब की तस्करी में लिप्त बदमाश अब खुलेआम फायर कर नाकाबंदी तोडकऱ निकल रहे हैं, लेकिन जिले की पुलिस के पास उनसे मुकाबले के लिए सिवाय डंडों के अलावा कुछ नहीं है। ऐसे में अधिकांशत: तो तस्कर पुलिस को चमका देकर फरार हो जाते हैं। लेकिन, कुछेक बार वे पुलिस के हत्थे भी चढ़ जाते हैं। पिछले कुछ दिनों की घटनाएं तो इसकी ओर ही इंगित कर रही है। दरअसल, पाली पुलिस के पास 1941 से लेकर 2009 तक के दस तरह के हथियार है। इन्हें चलाने के लिए दक्ष पुलिसकर्मी भी है, लेकिन गश्त के दौरान व हाइवे पर नाकाबंदी के दौरान ये जवान डंडा थामे ही नजर आते हैं। इसी का नतीजा है कि जिले में फायरिंग की घटनाएं बढ़ रही है। गत वर्ष भी तस्कर की पिस्टल से निकली गोली से सदर थाने का एक कांस्टेबल घायल हो गया था। मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले बदमाश जिले से होकर गुजरते है। इसका मुख्य कारण बड़ी संख्या में शराब की गुजरात में अवैध रूप से तस्करी होना है। वहीं डोडा-पोस्त, अफीम भी मध्यप्रदेश से लेकर पाली के रास्ते ही अन्य जगहों पर सप्लाई की जाती है। इस दौरान पुलिस से बचने के लिए बदमाश हथियार भी रखने लगे हैं। कई बार नाकाबंदी होने पर वे हवाई फायर कर पुलिस से पीछा छुड़ाकर फरार हो जाते हैं। इस सप्ताह ही रायपुर थाना क्षेत्र में फायरिंग की दो घटनाएं हो चुकी हैं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/0LvNqgAA

📲 Get Pali News on Whatsapp 💬