[rajgarh] - नहीं मिले डॉक्टर, मरीजों की आफत

  |   Rajgarhnews

राजगढ़/ब्यावरा. नीति आयोग के आंकड़ों में पूरी तरह पिछड़ चुका स्वास्थ्य विभाग अभी भी बिगडेल ढर्रा सुधार नहीं पा रहा है। लापरवाही का आलम यह है कि शासन ने जिन सुविधाओं के लिए सरकारी अस्पताल खोले है। वह सुविधाए तो दूर उन्हें उपचार तक नहीं मिल पा रहा है।

दरअसल, भगवान भरोसे चल रही सिविल अस्पताल की व्यवस्थाओं में बड़ी लापरवाही सामने आई है। रविवार दोपहर दो बजे के बाद इमरजेंसी में कोई डॉक्टर ही मौजूद नहीं था। अस्पताल में दिनभर मरीज आते रहे, लेकिन नर्सिंग स्टाफ और वार्डबॉय ने समझाकर रवाना कर दिया।

गनीमत रही कि सिविल अस्पताल में बहुत ज्यादा इमरजेंसी और एक्सीडेंट जैसे मामले नहीं आए वरना आफत आ जाती। खास बात यह हैै कि सिविल अस्पताल प्रबंधन ने इतनी बड़ी लापरवाही का जिम्मा किसी प्रभारी या मेडिकल ऑफिसर ने नहीं लिया। दिनभर मरीज परेशान होते रहे और एमएलसी के लिए भी राजगढ़ जिला अस्पताल जाना पड़े।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/4LfTNwAA

📲 Get Rajgarh News on Whatsapp 💬