[sagar] - आज सो जाएंगे देव, चार माह नहीं होंगे शुभ कार्य

  |   Sagarnews

सागर. अब सोमवार से देवशयनी एकादशी के साथ ही मांगलिक कार्यों पर पूर्ण रूप से विराम लग जाएगा। साथ ही चार माह तक कोई भी मांगलिक कार्यों के मुहूर्त नहीं निकलेंगे। इस दौरान विवाह, उपनयन संस्कार, गृह-प्रवेश, प्राण प्रतिष्ठा जैसे शुभ कार्य नहीं हो सकेंगे।

पंडित जयनारायण शर्मा ने बताया कि शनिवार को विवाह का आखिरी मुहूर्त था जो खत्म हो गया है। अब विवाह के मुहूर्त अगले साल हैं। चार माह बाद 19 नवंबर को देवउठनी एकादशी से ही मांगलिक कार्य शुरू हो सकेंगे।

हिंदू मान्यता के अनुसार देवशयनी एकादशी से ही विष्णु भगवान चातुर्मास में शयन करने पाताल लोक में चले जाते हैं। इस वर्ष 23 जुलाई को चातुर्मास शुरू होगा, जो 18 नवंबर तक रहेगा। 18 नवंबर को गुरु अस्त हो जाएंगे। साथ ही 15 दिसंबर से खरमास शुरू होगा, जो 14 जनवरी 2019 तक चलेगा। इस दौरान भी शुभ कार्य वर्जित माने जाते हैं और केवल धार्मिक कार्य होते हैं। विवाह मुहूर्त 15 जनवरी 2019 के बाद से ही शुरू हो सकेंगे। ...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/-dtI8gAA

📲 Get Sagar News on Whatsapp 💬