[sagar] - हनुमान पर आधारित है आंजनेय काव्य संग्रह

  |   Sagarnews

सागर. साहित्य अकादमी, मप्र संस्कृति परिषद भोपाल के स्थानीय उपक्रम सागर पाठक मंच की 60वीं गोष्ठी तिली स्थित पशुपतिनाथ मंदिर में आयोजित हुई। मुख्य अतिथि के रूप में हनुमानजी के जीवन चरित पर रचित ग्रंथ आंजनेय के लेखक, अनूपपुर अपर कलेक्टर राम प्रकाश तिवारी रहे।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि सद्गुणों की समग्रता हनुमानजी के व्यक्तित्व में है। वे आज भी प्रसांगिक हैं। उनमें धैर्य, बल, विद्या, बुद्धि की व्यापकता है। 'आंजनेयÓ काव्य संग्रह गुरु कृपा और हनुमानजी की कृपा का ही फल है, जो अब पाठक समाज के लिए समर्पित है।

गोष्ठी की अध्यक्षता कर रहे साहित्यकार डॉ. महेश तिवारी ने कहा कि आंजनेय पुस्तक में राजनीतिक कौशल, राष्ट्रप्रेम, जीवनमूल्यों को हनुमानजी के व्यक्तित्व से जोड़कर एक सकारात्मक दृष्टिकोण से व्याख्यायित किया गया है। ...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ZK4l4QAA

📲 Get Sagar News on Whatsapp 💬