[ajmer] - देश का भविष्य गढ़ने वाले शिक्षकों ने ही उड़ाया योग दिवस का उपहास, कुर्सियों पर बैठ सरकारी आदेश किए दरकिनार

  |   Ajmernews

पुष्कर/अजमेर। मरुधर केसरी भवन में शिक्षाकर्मियों सहित अन्य सरकारी महकमों के कर्मचारियों व अधिकारियों ने योग दिवस के अवसर पर आयोजित योग शिविर का उपहास किया। राज्यादेश की अवहेलना करके कई शिक्षाकर्मी कुर्सियों पर बैठे रहे। यहां तक कि शिविर प्रभारी के योग करने के निर्देश भी दरकिनार कर दिए गए। इस वाकये को लेकर पुष्कर तहसीलदार ने लापरवाह शिक्षाकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कहते हुए रिपोर्ट तलब की है।

योग शिविर सुबह 7 से साढ़े 8 बजे तक चला। इस दौरान स्कूली बच्चे, स्थानीय महिला, पुरुष, सरकारी अधिकारी, कर्मचारी सहित 648 जनों ने योग शिविर में पंजीकरण सूचीबद्ध कराया। मौके के हालात पर नजर डालें तो शिक्षाकर्मियों को शायद योग करना रास नहीं आया। यही कारण रहा कि एक ओर ध्यान कराया जा रहा था तो दूसरी ओर राज्यादेश का मजाक उड़ाते हुए शिक्षाकर्मी योग के दौरान कुर्सियों पर एवं पास की छोटी दीवार पर बैठे रहे। कोई मोबाइल फोन चला रहा था। तो कोई बातें करके मनोरंजन करने में व्यस्त दिखा। शिविर प्रभारी बी एल मिश्रा ने मौके पर जाकर ठाले बैठी शिक्षिकाओं व अन्य शिक्षाकर्मियों को योग करने के निर्देश दिए, जो अनसुने कर दिए गए।

इनका कहना है-फोटो के साथ मांगी रिपोर्टयोग के दौरान कुर्सियों पर बैठे अध्यापकों, शिक्षिकाओं की शिविर प्रभारी से फोटो के साथ रिपोर्ट मांगी है। ऐसे में सभी राज्यादेश की अवहेलना करने वालों की फोटो ले ली गई है। रिपोर्ट के आधार पर लापरवाह शिक्षक के खिलाफ जिला शिक्षा अधिकारी को कार्रवाई के लिए लिखा जाएगा। — विमलेंद्र राणावत, तहसीलदार, पुष्कर

शिनाख्त कर सूची दी जाएगी प्रशासन कोयोग करने के दौरान शिक्षक—शिक्षिकाओं व अन्य कर्मचारियों को कुर्सियों से उठकर योग करने को कहा गया, लेकिन वे नहीं माने। सभी की मौका फोटो ले लिए गए हैं। फोटो के आधार पर शिनाख्त करें सूची प्रशासन को दे दी जाएगी। — डॉ. बीएल मिश्रा, शिविर प्रभारी आयुर्वेद विभाग, पुष्कर

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/2pLSowAA

📲 Get Ajmer News on Whatsapp 💬