[alwar] - Breaking : अलवर में बारिश के बाद फिर गिरे पेड़, पेड़ के नीचे दबने से मची चीख-पुकार

  |   Alwarnews

अलवर-जयपुर मार्ग पर अकबरपुर व नटनी का बारा से लेकर मालाखेड़ा तक तेज तूफानी हवा से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। अकबरपुर के समीप बड़ा पेड़ सडक़ पर गिर गया जिससे यातायात बाधित हो गया। यहां कई घंटों तक जाम लगा रहा। अकबरपुर के मीरा मोहल्ले में पेड़ के नीचे मवेशी दब गए। पड़ोसियों की चीख पुकार सुनकर लोग दौड़े और पेड़ के नीचे दबी भैंस व उसके बच्चों को निकाला। तूफानी हवा के बाद करीब 25 मिनट तक जोरदार बारिश हुई जिससे खेतों में पानी भर गया।

फसलों के लिए अच्छी है यह बारिश

अलवर में हो रही प्री-मानसून बारिश फसलों के लिए अच्छी है। ग्रामीणों ने बताया कि मानसून में 21 तारीख को पहली बारिश तेज तूफानी हवा के बाद आई है। इससे किसानों को फायदा होगा। ज्वार, बाजरा, ग्वार, अरहर, मूंग व उडद की बुवाई हो सकेगी। तूफानी हवा से शादी विवाह के काफी परेशानी हुई है।

घर की उड़ी टीनशेड

तूफान व अंधड़ के कारण अकबरपुर निवासी मोबीन पत्नी गुड्डा के घर की टीन उड़ गई। इसकी चपेट में आने से बाहर बंधी हुई भैस की मौत हो गई। मोबीन ने बताया कि यह भैस उसने हजारों में खरीदी थी। उससे पूरे घर का खर्च चलता था। घर का काफी सामान तूफान की भेंट चढ़ गया है।

लग गया लंबा जाम

बारिश के रास्ते पर पेड़ गिरने से लंबा जाम लग गया। जाम में कई ट्रक भी फंस गए। इससे नटनी का बारां व ताल वृक्ष घूमने जाने वाले पर्यटकों को भी खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं यह जाम स्थानीय लोगों के लिए मनोरंजन का विषय बन गया।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/pYdOEgAA

📲 Get Alwar News on Whatsapp 💬