[himachal-pradesh] - असुरक्षित भवन के चलते खतरे के साए में है औच्छघाट स्कूल के बच्चे

  |   Himachal-Pradeshnews

सीनियर सेकेंड़री स्कूल औच्छघाट मे बच्चे डर के साये में रहने पर मजबूर हैं. एक असुरक्षित भवन के चलते उनकी पढ़ाई भी बाधित हो रही है. स्कूल के एक भाग मे दो मंजिला भवन को 2015 मे असुरक्षित घोषित कर दिया गया था. उसे तीन साल बीत जाने पर भी तोड़ा नहीं गया है. इस भवन मे चार कमरे हैं जिनमे बच्चों की कक्षाएं चला करती थी. जब से भवन को असुरक्षित घोषित किया गया है तब से कमरों की कमी के चलते बच्चों की कक्षाएं स्कूल की साइंस लैब व स्टॉफ के कमरो मे लगाई जा रही हैं.इस अव्यवस्था के चलते बच्चों की पढ़ाई पर भी इसका विपरीत असर पड़ रहा है. इतना ही नहीं स्कूल के खेल मैदान के नजदीक बने असुरक्षित भवन के आसपास बच्चे खेलते रहते हैं, जिसके चलते कभी भी कोई अनहोनी हो सकती है. एेसे में स्कूल मैनेजमेंट कमेटी ने सरकार व प्रशासन से जल्द से जल्द इस बिल्डिंग को डिसमेंटल कर इसकी जगह नए भवन का निर्माण करने की मांग की है ताकि असुरक्षित भवन के कारण किसी भी दुर्घटना से बचा जा सके.वहीं प्रिसिपल चंद्रमोहन शर्मा का कहना है कि विभाग द्वारा साल 2017 मे नए भवन के निर्माण के लिए दो करोड़़ 44 लाख की राशी स्वीकृत कर दी गई है और लोकनिर्माण विभाग को इसके कार्य के लिए एक लाख की टोकन मनी भी दे दी गई है लेकिन लोकनिर्माण विभाग का कहना है कि पुराने भवन को डिसमेंटल करने व नए भवन के निर्माण के लिए विभाग को स्वीकृत राशि का कुल तीस प्रतिशत पैसा देना होगा तभी यह काम आरंभ किया जा सकता है.(रिपोर्ट- सुनील कुमार )

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/BLu5vwAA

📲 Get himachal-pradeshnews on Whatsapp 💬