[kota] - दुःख भरे दिन बीते रे भैया, अब सुख आयो रे.......

  |   Kotanews

रामगंजमंडी. लंबे समय से बदहाल पड़ी सब्जीमंडी के दिन अब जल्द फिरेंगे। यहां टीनशेड का दायरा बढ़ाया जाएगा और उखड़ी फर्शी की जगह नई फर्शी लगाने का कार्य होगा। नई दुकानों का भी निर्माण कराया जाएगा। ये सब कार्य नगरपालिका कराएगी।

पालिकाध्यक्ष हेमलता शर्मा के निर्देश पर अधिशासी अधिकारी राजूलाल मीणा ने गुरुवार को सब्जीमंडी का हाल देखा। करीब दो घंटे तक यहां रुककर गोदाम व दुकानों का नवनिर्माण कराने की जगह चिन्हित की। उन्होंने सब्जी विक्रेताओं की समस्याएं सुनकर उनके समाधान का भरोसा दिलाया।

अधिशासी अधिकारी के साथ पहुंचे सहायक नगर नियोजक सत्यनारायण राठौर, पार्षद घनश्याम शर्मा, सौरभ शर्मा, प्रमोद शर्मा, राकेश जैन को सब्जी विक्रेताओं ने बताया कि सब्जीमंडी में टीनशेड कम होने से बरसात के दिनों में परिसर में पानी का भराव होने से सब्जी खरीदने आने वाली महिलाओं को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

आवारा मवेशियों की रोकथाम नहीं होने से सब्जी विक्रेताओं के साथ खरीदारों को दिक्कतें आ रही है। फर्शी उखड़ी हुई होने से सावधानी से लोगों को निकलना पड़ रहा है। कई बार लोग यहां गिर कर चोटिल हो जाते हैं।

सामान नहीं फैलाएंअधिशासी अधिकारी ने प्लेटफार्म पर दुकान लगाने वाले दुकानदारों को तय सीमा से ज्यादा हिस्से में अपना सामान नहीं रखने की हिदायत दी। चकरी गेट से होकर आने वाले रास्ते के बीच में दुकानें सजाने वाले फल विक्रेताओं को निश्चित परिधि में दुकानें लगाने के निर्देश दिए।

निरीक्षण के दौरान सब्जीमंडी परिसर में निर्मित सुलभ शौचालय भी बदहाल मिला। जनप्रतिनिधियों ने इसकी हालत में सुधार की आवश्यकता बताई।

लंबे समय से है उपेक्षितसब्जीमंडी का निर्माण पूर्व पालिकाध्यक्ष फूलचंद डांगी के कार्यकाल में हुआ था। इसके बाद निर्वाचित बोर्ड की तरफ से सब्जीमंडी में सुधारात्मक प्रक्रिया के अंर्तगत टीनशेड बढ़ाने के कार्य हुए। सब्जीमंडी में आवारा मवेशियों की रोकथाम के लिए काऊकेचर भी लगे।

इसके बावजूद मवेशियों के परिसर में आने पर रोक नहीं लगी। अब मवेशियों का सब्जीमंडी में प्रवेश रोकने के लिए भी ठेका दिया जाएगा। पालिका बोर्ड की बैठक में अक्सर सब्जीमंडी की बदहाली को लेकर सदस्य मुखर होते रहे हैं लेकिन पहली बार पालिका की नजरें सब्जीमंडी पर इनायत हुई हैं।

सुधरेंगे हालातपालिकाध्यक्ष हेमलता शर्मा ने बताया कि सब्जीमंडी में सर्वाधिक महिलाओं की आमद रफ्त होती है। आवारा मवेशियों की रोकथाम व पानी भराव की आने वाली दिक्कतों को दूर किया जाएगा।

इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले सब्जी विक्रेताओं को जगह नहीं मिलने से वे आमरास्ते पर दुकानें लगाते हैं। इस समस्या का भी समाधान किया जाएगा। यहां की पूरी हालत सुधारी जाएगी। पूरे परिसर मे नई फर्शी लगाई जाएगी।

नालियों का निर्माण कराया जाएगा। नियमित सफाई का कार्य भी कराया जाएगा। सब्जी विक्रेताओं के लिए दुकानों का निर्माण होगा। ये दुकानें खुली नीलामी में बेची जाएंगी। टीनशेडयुक्त प्लेटफार्म बनाया जाएगा।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/3tu8PwAA

📲 Get Kota News on Whatsapp 💬