[kota] - IB officer murder case हवस ने इतना पागल कर दि‍या था कि‍ रोज बनाते थे मारने के मंसूबे

  |   Kotanews

झालावाड़. पुलिसकर्मी के अपनी टीचर प्रेमिका के पति की हत्या करने के मामले में नया खुलासा हुआ है। दिल्ली के आईबी ऑफिसर चेतन प्रकाश गलाना की हत्या से पहले उनकाे ट्रक से कुचलने का प्रयास भी किया था। इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी एसीबी कांस्टेबल प्रवीण राठौर के साथी ट्रक चालक शाकिर को गिरफ्तार किया है।

दुर्घटना में घायल चेतन से जब अस्पताल में पुलिस ने घटना के बारे में जानकारी मांगी तो वहां उपस्थित प्रवीण में रिपोर्ट में स्कूटी को गाय से टकराने से गिर कर घायल होने की बात लिख दी। चेतन को उसने बताया कि अज्ञात ट्रक लिखवाने से स्कूटी का क्लेम नही मिलेगा। उसने योजना के अनुसार 5 जनवरी की घटना की रिपोर्ट 13 जनवरी को दी थी।

पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि प्रवीण को केटामाईन इंजेक्शन उपलब्ध करवाने वाले की पहचान हो गई है। लेकिन फिलहाल जांच जारी है। इस इंजेक्शन की जानकारी के लिए पुलिस ने मेडिकल बोर्ड बैठाया जिस पर रिपोर्ट में पता चला कि चेतन को 500-500 एमजी की हाईडोज दी गई थी। इससे व्यक्ति का ब्लड प्रेशर हाई हो जाता है और ब्रेन कोमा में चला जाता है।

प्रवीण का दिल नही पसीजा

पुलिस ने बताया कि प्रवीण ने चेतन को मारने के लिए 14 अप्रेल का दिन चुना, इस दिन वेलेंटाइन डे का वह अपनी प्रेमिका को उसके पति को रास्ते से हटा कर तोहफा देना चाहता था। पुलिस ने बताया कि आरोपी शाहरुख ने बताया कि हत्या के समय जब प्रवीण चेतन को इंजेक्शन लगा रहा था तो चेतन कह रहा था 'प्रवीण जी इंजेक्शन मत लगाओं बहुत दर्द हो रहा है' लेकिन प्रवीण का दिल नही पसीजा और उसने चेतन की जांघ पर इजेक्शन लगा कर नाक दबा दी। इससे कुछ ही देर में चेतन की मृत्यु हो गई।

हत्या का कारण आया सामने

जिला पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अनुसंधान में सामने आया कि मृतक चेतन की पत्नी अनीता मीणा आैर प्रवीण राठौर के मध्य लम्बे समय से अवैध सम्बंध थे। इन सम्बंधों को छुपाने के लिए प्रवीण ने अनीता को राखी बहन बना रखा था। मृतक के पिता ने प्रवीण को घर आने जाने के लिए मना कर रखा था। इस बात को लेकर मृतक व उसकी पत्नी में झगड़ा भी हुआ था। लेकिन फिर भी दोनो के बीच निरंतर सम्पर्क बना रहा।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/DKmtsQAA

📲 Get Kota News on Whatsapp 💬