[mp] - इंदौर में 32 महीने में 33वीं बार बना ग्रीन कॉरिडोर, 3 मरीजों को मिला नया जीवन

  |   Madhya-Pradeshnews

इंदौर.लगातार अंगदान के क्षेत्र में मिशाल पेश कर रहे इंदौर में शुक्रवार को एक बार फिर से ग्रीन कॉरिडोर बना। पिछले 32 महीने में यह 33वां मौका है, जब ग्रीन कॉरिडोर बनाकर कुछ लोगों को नई जिंदगी देने का प्रयास किया गया। दोपहर में सीएचएल से चोइथराम और सीएचएल से मेदांता अस्पताल तक दो कॉरिडोर बने।

  • मुस्कान ग्रुप के जीतू बगानी ने बताया कि विजय बनिक को 20 जून को बेहोशी की हालत में परिजन सीएचएल अस्पताल लेकर आए थे। विजय की हालत देख डॉक्टरों ने उसे तत्काल आईसीयू में भर्ती कर दिया। डॉक्टरों ने परिजनों को ब्रेन हेमरेज की बात बताई। काफी प्रयास के बाद भी विजय की हालत में कोई सुधार नहीं हुआ और गुरुवार दोपहर डॉक्टरों ने उसे ब्रेन डेथ घोषित कर दिय। ब्रेन डेथ घोषित होने के बाद विजय के परिजनों ने अंगदान की इच्छा जताई। इसके बाद डॉक्टरों ने गुरुवार देर शाम दूसरी बार उसे ब्रेन डेथ घोषित कर अंगदान की प्रक्रिया आगे बढ़ाई।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/tNvHmQAA

📲 Get Madhya Pradesh News on Whatsapp 💬