[una] - आबादी क्षेत्र में मोबाइल टावर लगाने पर भड़के लोग

  |   Unanews

42.224.4रिहाइशी क्षेत्र में मोबाइल टावर लगाने पर भड़के लोगगुरुसर मोहल्ला के लोगों ने एसी टू डीसी को सौंपा ज्ञापनटावर की रेडियेशन से लोगों ने बताया सेहत का खतराअमर उजाला ब्यूरोऊना। शहर के वार्ड दो स्थित गुरुसर मोहल्ले में सघन आबादी वाले क्षेत्र में एक निजी कंपनी का मोबाइल टावर लगाए जाने का स्थानीय लोगों ने भारी विरोध किया है। उन्होंने इस बारे में एसी टू डीसी से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। उन्होंने आरोप लगाया कि भवन के मालिक खुद तो यहां रहने वाले नहीं हैं। लेकिन घनी आबादी में बसे अन्य लोगों के लिए मुश्किलें खड़ी कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि अभी यह टावर क्रियाशील नहीं हुआ है, लेकिन चालू होने के बाद यह लोगों के लिए मुसीबत बन जाएगा। एसी टू डीसी को सौंपे ज्ञापन में प्रेम राजपूत, महेंद्र वर्मा, श्याम कुमार, विजय कुमार, राजेंद्र कुमार, कुलदीप, ममता, संजीव, तरसेम, मनदीप, राजीव समेत मोहल्ले के दर्जनों लोगों का हस्ताक्षरित किए हैं। उन्होंने गुहार लगाई कि मोबाइल टावर से निकलने वाली विकिरण लोगों के लिए खतरनाक हैं जिससे कैंसर जैसी बीमारी तक का खतरा हो सकता है। वहीं नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने भी स्पष्ट किया है कि टावर की ये विकिरण वायु प्रदूषण का कारण बनती हैं। इसके आसपास रहने वाले लोगों की सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ता है। न केवल रेडिएशन, यहां तक कि डीजल जेनरेटर भी पावर कट के दौरान भारी शोर और वायु प्रदूषण के कारण आसपास के इलाकों में रहने वाले लोगों को नुकसान पहुंचाता है। जेनरेटर के कंपन से आसपास के भवनों में दरारें आ जाती हैं। एसी टू डीसी एसके शर्मा ने कहा कि मोहल्ला वासियों ने ज्ञापन सौंपा है जिसे एसडीएम को मार्क किया गया है। उन्होंने कहा कि जल्द इस बारे में उचित कार्रवाई की जाएगी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/vYwPggAA

📲 Get Una News on Whatsapp 💬