[uttarakhand] - प्राकृतिक सौंदर्य से लबरेज मुनस्यारी में टूरिज्म बढ़ाने के लिए सरकार करें पहल

  |   Uttarakhandnews

उत्तराखंड में साल भर पर्यटकों का मजमा लगा रहता है. प्रदेश में ऐसी कई जगह हैं जहां पर्यटक मौज-मस्ती करते हैं, लेकिन बात मुनस्यारी की करे तो यहां की रौनक ही कुछ और है. मुनस्यारी का सौन्दर्य और शांति की चाह रखने वाले यहां खिंचे चले आते हैं. बर्फ से पटी पंचाचूली की चोटियां और बारहों महीने खुशनुमा मौसम हर किसी को आकर्षित करता है.समुद्र तल से ढाई हजार मीटर की ऊंचाई पर बसे मुनस्यारी में मौसम बारह माह खुशनुमा रहता है. सीजन गर्मी हो या फिर सर्दियों का सैलानी यहां आकर खुद को तरोताजा महसूस करते हैं. आलय यह है कि हिमालय की गोद में बसे इस छोटे से इलाके में पर्यटक गर्मियों में भी जमकर ठंड का मजा ले रहे हैं.प्राकृतिक सौंदर्य से लबरेज मुनस्यारी पहुंचने से पहले बिर्थी फॉल के नजारे भी देखते ही बनते हैं. मिलम, रालम जैसे खूबसूरत ग्लेशियरों का रास्ता भी यहीं से होकर गुजरता है. कुदरत के तोहफों से लबालब भरे मुनस्योरी में भले ही सरकारे खास सुविधाएं मुहैय्या नहीं पाई, लेकिन इसके बावजूद यहां साल दर साल पर्यटन का कारोबार परवान चढ़ रहा है.पर्यटन को बढ़ाने की तमाम कुदरती चीजें यहां मौजूद हैं. मौसम तो मेहरबान रहता ही है साथ ही प्राकृतिक सौंदर्य की भी कोई कमी नहीं है. अगर सरकार इस दिशा में ठोस पहल करे तो पर्यटन कारोबार और अधिक परवान चढ़ेगा.

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/RfvZtwAA

📲 Get uttarakhandnews on Whatsapp 💬