[ajmer] - स्मार्ट सिटी की सुरक्षा पर लगे सवालिया निशान , लाखों लोगों का जिम्मा उठा रहे केवल 69 ट्रेफिक पुलिस कर्मी

  |   Ajmernews

मनीषकुमार सिंह /अजमेर.स्मार्ट सिटी की यातायात व्यवस्था आधे-अधूरे इंतजाम पर भगवान भरोसे चल रही है। शहर की सड़कों पर दुर्घटना रोकने व वाहनों की रफ्तार पर अंकुश लगाने के लिए इन्टरसेप्टर जैसे आधुनिक उपकरणों से लैस वाहन तो उपलब्ध करवा दिए लेकिन उन पर यातायात पुलिसकर्मियों की तैनाती की बजाय शहर की व्यवस्था में लगे पुलिसकर्मियों को लगा दिया। ऐसे में जवानों की नफरी की कमी से जूझ रहे यातायात पुलिस की व्यवस्था डगमाने लगी है। इसका असर शहर की यातायात व्यवस्था पर भी नजर आने लगा है।

सात लाख से ज्यादा की जनसंख्या और 4 लाख वाहनों वाले स्मार्ट सिटी की यातायात व्यवस्था सिर्फ 69 पुलिसकर्मियों के भरोसे चल रही है। इसमें से भी अधिकांश यातायात पुलिसकर्मी शहर के वीआईपी पाइंट पर ही ड्यूटी बजा रहे हैं। ऐसे में लाखों की संख्या में दुपहिया व चौपहिया वाहनों की रेलमपेल वाली शहर की सड़क और चौराहे भगवान के भरोसे है। शहर यातायात पुलिस में उप निरीक्षक के तीन पद है लेकिन सिर्फ एक की तैनाती है। इसी तरह यातायात की अहम कड़ी माने जाने वाले सिपाही के 130 पद सृजित हैं लेकिन 69 ही तैनात हंै। इसमें से भी ज्यादातर यातायात पुलिस कार्यालयों की व्यवस्था में ड्यूटी दे रहे हैं। ऐसे में शहर की सुगम यातायात व्यवस्था को बनाए रखना यातायात पुलिस के लिए बड़ी चुनौती है।

दो की बजाय एक पारीवैसे तो शहर की यातायात व्यवस्था दो पारी में चलनी चाहिए लेकिन यातायातकर्मियों की कमी के चलते अजमेर में सिर्फ एक पारी में जवान लगातार 8 की बजाय 14 घंटे की ड्यूटी देते है। उनकी ड्यूटी सुबह 8 से रात 10 बजे तक चलती है। वीवीआईपी और वीआईपी विजिट में ड्यूटी के समय में इजाफा हो जाता है।

यह है शहर ट्रेफिक पॉइंट

शहर में यातायात पुलिस के 44 पॉइंट है। इसके अतिरिक्त प्री-पेड बूथ, लोडिंग ट्रक और नो-पार्किंग में चौपहिया वाहन पर कार्रवाई के लिए क्रेन, टीआई कार्यालय और सीओ कार्यालय है। 44 ट्रेफिक पॉइंट में 18 पॉइंट पर यातायात पुलिसकर्मी तैनात है। इसमें धान मंडी, देहलीगेट, फव्वारा सर्किल, बारादरी, गंज तिराहा, एसपी, आईजी कार्यालय, कोर्ट पार्किंग, सेशन कोर्ट तिराहा, कलक्ट्रेट चौराहा, आगरागेट चौराहा, चूड़ी बाजार, गांधी भवन चौराहा, रेलवे आउट गेट, क्लॉक टावर चौराहा, झूलेलाल मंदिर डिग्गी चौक, बाटा तिराहा, परबतपुरा चौराहा और चार इन्टर सेप्टर वाहन शामिल हैं। यहां यातायात पुलिस के जवान तैनात हैं। शेष 26 चौराहा तिराहे बिना यातायात पुलिसकर्मियों के वीरान पड़े हैं।

शहर यातायात पुलिस एक नजर में-

पद नफरी मौजूद रिक्त (कम/ज्यादा)यातायात निरीक्षक 1 1 -

यातायात उप उप निरीक्षक 3 1 2 रिक्तसहायक उपनिरीक्षक 3 6 3 ज्यादाहै

डकांस्टेबल 18 18 1 ज्यादा सिपाही 130 69 61 रिक्त

यातायात पुलिस में नफरी में थोड़ी कमी है। मुख्य कारण पांच साल से ज्यादा समय से तैनात जवानों को गत दिनों हटाया गया था। नए इन्टर सेप्टर पर भी जवान लगाए हैं तो कमी होगी। जल्द ही शहर के यातायात पुलिस ने जवानों के तबादले किए जाएंगे।-राजेन्द्र सिंह, पुलिस अधीक्षक

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/tt-idgAA

📲 Get Ajmer News on Whatsapp 💬