[azamgarh] - 12 घंटे गुल रही बिजली, आई तो लो वोल्टेज

  |   Azamgarhnews

निजामाबाद (आजमगढ़)। नगर पंचायत सहित ग्रामीण क्षेत्रों में गुरुवार शाम से ही विद्युत आपूर्ति ठप होने की वजह से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। बिजली गुल होने से जहां गर्मी से लोग परेशान हुए वहीं, पेयजल का संकट भी उत्पन्न हो गया। सुबह 10 बजे बिजली आई लेकिन लो वोल्टेज रही। निजामाबाद नगर पंचायत और लगभग 10 गांवों में 12 घंटे तक विद्युत आपूर्ति ठप रही। इसकी वजह से भीषण गर्मी में पीने के पानी की सप्लाई भी बाधित हो गई। हैंडपंप पर लंबी-लंबी कतारें लगी हुई थीं। लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। नगर के संजय सोनी, बद्री मोदनवाल, संतोष सोनी, पंकज माली, प्रमोद मौर्या, बबलू जायसवाल, मो. खालिद, जेपी गुप्ता, अयोध्या विश्वकर्मा, अमरजीत प्रजापति, अमरजीत मौर्या वे बताया कि विद्युत व्यवस्था में सुधार नहीं किया गया तो पुरानी तहसील चौक पर धरना-प्रदर्शन करेंगे। जेई हेमंत कुमार ने बताया कि लगातार फाल्ट की वजह से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ऊपर से रोस्टिंग के भी निर्देश हैं। जल्द ही विद्युत आपूर्ति सुधारी जाएगी। हिजली कटौती ने बढ़ाई परेशानी मेजवां (आजमगढ़)। फूलपुर और ग्रामीण इलाकों में दोपहर और आधी रात के बाद घंटों बिजली कटौती से लोग परेशान रहे। इसी बीच कई स्थानों पर ट्रांसफार्मर भी जले पड़े हैं। इससे दिक्कतें बढ़ गई हैं। फूलपुर पावर सब स्टेशन का आठ एमबीए का ट्रांसफार्मर जला पड़ा है। इससे 100 से अधिक गांव प्रभावित है। जौमा गांव में तीन माह से 25 केवीए का ट्रांसफार्मर जला पड़ा है। इसके चलते लोग बिजली-पानी से वंचित हैं। अन्य इलाके में दोपहर और रात 11 बजे के बाद बिजली आपूर्ति काट दी जा रही है। बिजली अधिकारियों की मानें तो अधिक तपिश के चलते बिजली का लोड बढ़ जा रहा है। इसके चलते ट्रिपिंग होती है। ट्रांसफार्मर भी खुले में है। इसके चलते कुछ समय के लिये बिजली बंद करनी पड़ती है। शहर से लेकर गांव में बिजली की कटौती से लोगों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है। बाबू, दिलवर, मिनहाज, रामआसरे ने बताया कि कटौती बंद नहीं हुई तो आंदोलन का रास्ता अख्तियार किया जाएगा।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/8znJ0wAA

📲 Get Azamgarh News on Whatsapp 💬