[bareilly] - फीस में मनमानी और मानकों में भी अपनी चलाते हैं स्कूल

  |   Bareillynews

कान्वेंट स्कूल फीस से लेकर मानकों में भी अपनी चलाते हैं। ज्यादातर स्कूल सीबीएसई के नियमों की धज्जियां उड़ा रहे हैं। संयुक्त शिक्षा निदेशक कार्यालय से जारी होने वाली एनओसी के नियमों का भी ये पालन नहीं करते। बात चाहें फीस की हो या फिर स्कूली वाहन या एक क्लास में मानकों के अनुसार छात्रों को बैठाने की। स्कूल शिक्षकों की नियुक्ति में भी मानकों की अनदेखी कर जाते हैं। फीस अध्यादेश के तहत जिला समिति के सामने पेश हो रहे रिकॉर्ड में इस बात की पुष्टि भी हो रही है। अभी तक इक्कादुक्का स्कूल को छोड़ दे तो बाकी किसी ने भी फीस और शिक्षकों से जुड़े पूरे रिकॉर्ड नहीं दिए। शुक्रवार को भी दस स्कूलों को अपने रिकॉर्ड प्रस्तुत करने थे। एसआर, बाल विद्या मंदिर समेत दो तीन स्कूलों ने ही पूरे रिकॉर्ड दिए। बाकी फीस और शिक्षकों से जुड़े पूरे रिकॉर्ड नहीं दिखा पाए। सबसे ज्यादा घालमेल मानकों में किए जा रहे हैं। सीबीएसई स्कूलों में बीएड के साथ केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटेट) पास अभ्यर्थी ही शिक्षक पद पर नियुक्ति किए जा सकते हैं। शहर के अधिकतर स्कूलों में सीबीएसई के इस नियम का पालन नहीं हो रहा। जिला समिति ने फीस के ब्योरे साथ शिक्षकों को ब्योरा भी मांगा है जिसमें उनको कितना वेतन दिया जा रहा है। इसमें स्कूलों को उनकी योग्यता भी बताना है। यही कारण है कि स्कूल शिक्षकों के वेतन और योग्यता संबंधी रिकार्ड छिपा रहे हैं। योग्य शिक्षकों को रखेंगे तो उनको उतना मोटा वेतन देना होगा, जबकि सिर्फ स्नातक पास वाले को रखेंगे तो उनको ज्यादा वेतन नहीं देना होगा। सूत्रों का कहना है कि शिक्षकों को वेतन ज्यादा दिखाया जाता है, लेकिन दिया कम जाता है। शुक्रवार को बाल विद्यापीठ, गंगाराम, एसआर, महर्षि, सेंट जेवियर्स, सिटी पब्लिक स्कूल, जवाहर नवोदय, केवी जेआरसी, नालंदा, मदर्स प्राइड को अपने रिकार्ड देने थे। इसमें दो स्कूलों ने ही पूरे रिकॉर्ड दिए। बाकी ने एक या दो दिन का वक्त मांगा है।

डीआईओएस अचल कुमार मिश्रा के अनुसार कान्वेंट स्कूल नियमों को फालो को नहीं कर रहे। कोई भी स्कूल पूरा रिकॉर्ड देने को तैयार नहीं। यहां मानकों के अनुसार शिक्षक हैं या नहीं इसपर भी सवाल खड़ा हो रहा है। 25 जून तक का समय है। उसके बाद पूरी रिपोर्ट रिकॉर्ड के साथ मंडलीय समिति को भेज दी जाएगी। जरूरत पड़ी तो इसकी रिपोर्ट सीबीएसई को भी भेजी जाएगी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Jk7UxAAA

📲 Get Bareilly News on Whatsapp 💬