[bundi] - बूंदी के व्यापार जगत में क्यों मची है खलबली, पढ़िये पूरी खबर

  |   Bundinews

बूंदी.

भारतीय स्टेट बैंक शाखा और बूंदी की कृषि उपज मंडी के आढ़तियों का करोड़ों रुपए बकाया होने पर एक नामी फर्म का व्यापारी फरार हो गया है। इससे बूंदी के व्यापार जगत में खलबली मच गई है। बैंक शाखा प्रबंधक के 22 करोड़ रुपए नहीं चुकाने की रिपोर्ट पर सदर थाना पुलिस ने व्यापारी और उसकी पत्नी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है। इधर, बूंदी कृषि उपज मंडी आढ़तिया संघ का प्रतिनिधिमंडल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक से मिला और धोखाधड़ी करने वाली फर्म से राशि बरामद करने की मांग की है।

9 करोड़ रुपए बकाया जानकारी के मुताबिक इस फर्म पर मंडी का करीब 9 करोड़ रुपए बकाया बताया जा रहा है। सदर थाने के सहायक पुलिस निरीक्षक रघुवीर सिंह ने बताया कि बैंक प्रबंधक की रिपोर्ट पर व्यापारी राजेश न्याती व उसकी पत्नी प्रेरणा न्याती के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया गया है। इन्होंने एसबीआई की बूंदी शाखा से मंडी में कारोबार के लिए ऋण लिया था। जिसकी कुल रकम 22 करोड़ रुपए बतायी जा रही है।

पुरानी है मंडी में यह फर्म

आढ़तिया संघ ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को सौंपे पत्र में बताया कि हरिकिशन तेजमल एंड कम्पनी के सदस्यों ने संघ के सदस्यों के मार्फत मंडी से जिंस तो खरीद लिया, लेकिन उसका भुगतान नहीं किया। जबकि मंडी में यह फर्म पुरानी है। आढ़तिया संघ के सदस्यों से माल लेते रहे और उसे गोदामों में जमा कर लिया। संघ के अध्यक्ष मधुसूदन काबरा ने मांग रखी कि फर्म के तीनों सदस्यों को पकड़कर यह वसूली कराई जाए। संघ ने फर्म के गोदामों में जमा माल की निकासी रोकने की भी मांग रखी है।

बर्बाद हो जाएंगे कई व्यापारी

सूत्रों ने बताया कि बूंदी की कृषि उपज मंडी में कई व्यापारियों ने नया कारोबार शुरू किया था। इन्होंने भी राजेश की फर्म को माल बेच दिया। ऐसे में करोड़ों रुपए लेकर फरार हुए राजेश के कारण चुकारा नहीं हुआ तो मंडी में कई व्यापारी बर्बाद हो जाएंगे।

निजी फाइनेंस कम्पनियां भी काट रही चक्कर

राजेश पर बैंक और मंडी के ही नहीं बल्कि कई निजी फाइनेंस कम्पनियों का भी करोड़ों रुपए बकाया बताया जा रहा है। इन कम्पनियों के उच्चाधिकारियों ने भी वसूली के लिए सदर थाना पुलिस को रिपोर्ट सौंपी है। जिस पर पुलिस जांच कर रही है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/hnAHegAA

📲 Get Bundi News on Whatsapp 💬