[chandauli] - तो जुलाई में भी बच्चों को नहीं मिल पाएंगी किताबें

  |   Chandaulinews

चंदौली। शासन की ओर से बेसिक स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए तमाम जतन किए जा रहे हैैं। किताब, यूनिफार्म से लेकर मुफ्त में भोजन की व्यवस्था है। कागज पर सुविधाएं तो दुरुस्त हैं मगर दो जुलाई से शुरू हो रहे नए शैक्षिक सत्र में बच्चों को किताबें ही नहीं मिल पाएंगी। पुरानी किताबों से ही बच्चों को काम चलाना पड़ेगा। बेसिक शिक्षा विभाग अब तक किताबों की व्यवस्था नहीं कर सका है। बेसिक शिक्षा विभाग ने अभी शासन से किताब के लिए पत्र भेजकर मांग की है। लेकिन किताबें कब तक स्कूलों में पहुंचेगी इसका दूर-दूर तक पता नहीं है। जिले में करीब 2.26 लाख बच्चे प्राथमिक और पूर्व माध्यमिक स्कूल में पंजीकृत हैं। इसमें 993 प्राथमिक स्कूलों में 149119 और 470 पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में 58204 बच्चों का दाखिला है। इसके अलावा मान्यता प्राप्त जूनियर हाई स्कूल, समाज कल्याण के नौ तथा कस्तूरबा विद्यालयों में 77 हजार सात सौ 59 बच्चे पंजीकृत हैं। नए शिक्षा सत्र में समय से बच्चों को नि:शुल्क किताब उपलब्ध कराने का दावा फेल होता दिख रहा है। शासन की ओर से 10 जून को बच्चों का आंकड़ा मांगा गया था। जून अब खत्म होने की ओर है लेकिन किताबें कब आएंगी, बेसिक शिक्षा विभाग को अब तक पता नहीं है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/CXZzuQAA

📲 Get Chandauli News on Whatsapp 💬