[dehradun] - जल स्रोतों के संरक्षण पर जोर

  |   Dehradunnews

जल स्रोतों के संरक्षण पर जोर ब्यूरो/अमर उजाला देहरादून। भारतीय पर्यावरण विज्ञान परिषद और डीएवी कॉलेज के जंतु विज्ञान विभाग की ओर से आयोजित दो दिवसीय सेमिनार को शुक्रवार को शुभारंभ हो गया। सेमिनार में जीव विज्ञान और पर्यावरण में चल रहे शोध की चुनौतियों पर चर्चा की गई। साथ ही जल स्रोतों के संरक्षण पर जोर दिया गया। सेमिनार में 16 राज्यों के 162 वैज्ञानिक और शिक्षक प्रतिभाग कर रहे हैं। इस मौके पर उपयोगी शोधकार्य करने वालों को सम्मानित किया गया।कॉलेज के दीनदयाल उपाध्याय सभागार में आयोजित सेमिनार का शुभारंभ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस परिषद कोलकाता के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर एके सक्सेना ने किया। भारतीय पर्यावरण विज्ञान परिषद के अध्यक्ष प्रोफेसर बीडी जोशी ने कहा कि जल स्रोतों का संरक्षण जरूरी है। हालिया सर्व में भूमिगत जल दोहन होने से भारत ही नहीं पूरी दुनिया में पेयजल संकट उत्पन्न हो गया है।कार्यक्रम में प्रोफेसर विनीता शुक्ला, प्रोफेसर मुथपा मुरग नदम, प्रोफेसर एसपी त्रिवेदी, प्रोफेसर अक्षय पानिग्रही, प्रोफेसर जावेद पैरी व डॉ. एके पांडेय को स्वर्ण पदक देकर से सम्मानित किया गया। जबकि डॉ. अर्चना श्रीवास्तव, डॉ. राखी उपाध्याय, डॉ. मधु मेहरा, डॉ. जेवीएस रोथान, डॉ. संजय कुमार, डॉ. आभा त्रिवेदी डॉ. विनोद कुमार को फेलोशिप अवार्ड दिया गया। इस अवसर पर प्रोफेसर बीएन पांडेय, प्रोफेसर कमल जायसवाल, प्रोफेसर एमपी रघुनाथ, प्रोफेसर दिनेश भट्ट, प्रोफेसर नमिता, प्रोफेसर विनीता शुक्ला, डॉ. डीपी उनियाल, प्रोफेसर एके पांडेय आदि मौजूद रहे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/4_-SvAAA

📲 Get Dehradun News on Whatsapp 💬