[dungarpur] - ​बिजली की बदहाली पर चित्कारी उठी राजलक्ष्मी, मां ने फर्श को बनाया बिछौना

  |   Dungarpurnews

डूंगरपुर.लग रहा है कि जिले का विद्युत तंत्र ही बदहाल हो गया है। एक या दो घंटे कटौती होने की बात हजम होती है, लेकिन गैंजी गांव में १५ घंटे से गुल बिजली ने हर किसी को आहत कर दिया। गैंजी गांव के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में शुक्रवाार दोपहर १२.१५ बजे पहुंचने पर महिला प्रसव वार्ड के बाहर अपने शिशु के साथ लेटी थी। जानकारी ली तो बताया कि रात से बिजली गुल होने के कारण वार्ड में बैठ पाना भी मुश्किल है, इसलिए फर्श पर लेट गई। बताया जा रहा है कि महिला फर्श पर घंटों लेटी रही। वहीं सीएचसी में लगा इन्वर्टर भी अल सुबह ठप हो गया है। महिला के परिजन अस्पताल स्टाफ से छुट्टी देने की बात कहते नजर आए है। सीएचसी स्टाफ से इसकी जानकारी विद्युत निगम को दी है, लेकिन बिजली सुचारू नहीं हो सकी। वहीं ग्रामीणों को परेशान होना पड़ गया। शुक्रवार शाम सवा तीन बजे तक भी बिजली बहाल नहीं हो सकी।

पोल टूटा, फिर टूट गया तारबताया जा रहा है कि गैंजी गांव में पुलिस चौकी के पास पोल टूट गया था। इसके बाद किसी व्यक्ति द्वारा पेड़ कटाई के कारण तार भी टूट गया। इससे शुक्रवार दोपहर साढे तीन बजे तक भी बिजली बहाल नहीं हो सकी। रात १० बजे से बिजली नहींरात १० बजे से सीएचसी में बिजली नहीं है। लाइनमैन को भी अवगत करा दिया है। दोपहर तक भी बिजली बहाल नहीं हो सकी। -डॉ अभिषेक बागडिय़ा, प्रभारी, सीएचसी गैंजीतार टूट गया...रात को हवा चलने से पोल टूट गया। शुक्रवार को एक व्यक्तिने पेड़ काटने का कार्य बिना सूचना दिए शुरू कर दिया। इससे तार टूट गया। -संजय हड़ात, कनिष्ठ अभियंता, विद्युत निगमली गई जानकारीकनिष्ठ अभियंता ने हवा चलने से तार टूटना बताया है। स्थिति की जानकारी ली जा रही है। जल्द आपूर्ति सुचारू की जाएगी। -हर्षद पंचाल, सहायक अभियंता, डूंगरपुर

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/O3kU7AAA

📲 Get Dungarpur News on Whatsapp 💬