[kanpur] - यूपी: यहां स्मार्ट सिटी की धीमी चाल से सीएम हुए नाराज, उठाया ये कदम

  |   Kanpurnews

कानपुर शहर को स्मार्ट बनाने के लिए पौने तीन साल पहले जोर-शोर से शुरू हुईं तैयारियां कछुआ चाल से भी धीमी चल रही हैं। इतने सालों तक जमीन पर कार्य शुरू न होने पर मुख्यमंत्री ने नाराजगी जताते हुए कानपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड से खर्च का ब्यौरा सहित विस्तृत रिपोर्ट तलब की है। जिसे इसी हफ्ते भेजना है।

दरअसल, स्मार्ट सिटी विकसित करने के लिए केंद्र और राज्य सरकार ने पिछले साल कानपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड (केएससीएल) को 216 करोड़ रुपये आवंटित किए थे। सबसे पहले केएससीएल ने पीएमसी (प्रोजेक्ट मैनेजमेंट कंसल्टेंट) नोएडा की कंपनी रुद्राभिषेक को नियुक्त किया। इस कंपनी को अपनी देखरेख में स्मार्ट सिटी विकसित करनी है। सबसे पहले कंपनी को आधुनिक कूड़ाघर और छह ओपन एयर जिम की डीपीआर (डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट) बनानी थी। जिसे बनाने में ही लेटलतीफी कर दी गई। टेंडर कमेटी ने 15 दिन पहले आधुनिक कूड़ाघरों और ओपन एयर जिम निर्माण के लिए दो कंपनियों का चयन तो कर लिया लेकिन अब तक अनुबंध न कर पाए। इस कारण जमीन पर कोई काम नहीं उतर पा रहा है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/o3mj1AAA

📲 Get Kanpur News on Whatsapp 💬