[meerut] - जून में पहली बार पारा पहुंचा 41.8 डिग्री

  |   Meerutnews

वेस्ट यूपी में एक बार फिर गर्मी ने रिकार्ड तोड़ दिया है। सूरज की तपिश और लू से लोग बेहाल हैं। शुक्रवार को तापमान 42 डिग्री के करीब पहुंच गया। मौसम वैज्ञानिकों की माने तो आने वाले 48 घंटों में पारा 44 डिग्री तक पहुंच सकता है। 26 से 28 जून के बीच बारिश के आसार हैं।

बीते पांच दिन से भीषण गर्मी का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। हालात यह है कि चिलचिलाती धूप में लोग घरों से बाहर निकलने में परहेज कर रहे हैं। सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। शुक्रवार को तो दिन के तापमान ने पिछले 13 साल का रिकार्ड तोड़ दिया। मौसम विभाग ने भी अलर्ट जारी किया है कि 25 जून तक गर्मी इसी तरह जारी रहेगी। मौसम कार्यालय पर अधिकतम तापमान 41.8 डिग्री और न्यूनतम तापमान 25.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। अधिकतम आर्द्रता 54 व न्यूनतम 28 प्रतिशत दर्ज की गई। मौसम वैज्ञानिक डा. एन सुभाष का कहना है कि दिन का तापमान सामान्य से पांच डिग्री अधिक रहा। 25 जून तक मौसम ऐसे ही रहेगा। इसके बाद बारिश के आसार हैं।

गर्मी में इन बातों का रखें ध्यान

  • दिन में दुपहिया वाहन सवार हाथ और मुंह ढककर चलें।

  • फ्रीज के ठंडे पानी के प्रयोग से बचें।

  • बाजार के तले पदार्थों के सेवन से बचें।

  • बाहर से आने के बाद कोल्ड ड्रिक व ठंडा पानी न पीयें।

  • शाम को हल्का भोजन लें, सलाद का अधिक प्रयोग करें।

  • रात में मच्छर से बचने के लिए मच्छरदानी का प्रयोग करें।

  • दिन में ज्यादा से ज्यादा नीबू पानी पीयें।

  • हरी सब्जी और मौसमी फलों का अधिक सेवन करें।

पिछले 13 साल का रिकार्ड

वर्ष तापमान

2006 39.1

2007 40.8

2008 40.1

2009 37.1

2010 38.4

2011 38.7

2012 39.5

2013 40.1

2014 40.8

2015 37.8

2016 38.7

2017 37.9

2008 41.8

वर्जन=======

25 जून तक भीषण गर्मी से राहत के आसार नहीं है। 26 से 28 जून के मध्य पूर्वी उप्र में प्री मानसून की बारिश के असार हैं। 29 जून को पूर्वी उप्र में बिहार के रास्ते मानसून आ सकता है। जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर राजस्थान, पंजाब के कुछ हिस्सों, हरियाणा और पूर्वी उप्र में कुछ जगहों पर हल्की बारिश की उम्मीद है। उत्तर पश्चिम मध्य प्रदेश और आसपास हरियाणा में चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। अभी भीषण गर्मी का दौर ऐसे ही बना रहेगा। तापमान सामान्य से ऊपर रहेगा।

डॉ. यूपी शाही, मौसम वैज्ञानिक, कृषि विवि

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/izHBNgAA

📲 Get Meerut News on Whatsapp 💬