[tehri] - भल्डियाना-मोटणा रोपवे का शुरू हुआ संचालन

  |   Tehrinews

नई टिहरी। बांध प्रभावित क्षेत्र प्रतापनगर के करीब दो दर्जन से अधिक गांव के लोगों के आवागमन के लिए 12 साल बाद भल्डियाना-मोटणा रोपवे का संचालन शुरू हो गया है। अभी स्थानीय लोगों से एक चक्कर का 10 रुपये और पर्यटकों से सौ रुपये किराया लिया जा रहा है। कुछ दिन बाद रोपवे का विधिवत लोकार्पण किया जाएगा। झील बनने के कारण आवागमन में परेशानि झेल रहे प्रतापनगर के लोगों की सुविधा के लिए सरकार ने वर्ष 2006 में भल्डियाना-मोटणा रोपवे स्वीकृत कर छह माह में निर्माण पूरा करने का लक्ष्य रखा था। बावजूद समय पर निर्माण पूरा नहीं हुआ। वष्र 2016 में लोनिवि नई टिहरी से लोनिवि चंबा को रोपवे का हस्तांतरण हुआ था। लोनिवि ने रोपवे के यात्री शेड, मशीन रखने का स्थान, कक्ष मरम्मत, एप्रोज रोड, टिकट घर आदि निर्माण पूरा कर 14 जून को रोपवे का ट्रायल किया था। ट्रायल में रोपवे में सफल रहा था। अब विधिवत रूप से रोपवे से आवागमन शुरू हो गया है। रोपवे सुबह आठ से शाम छह बजे तक संचालित हो रहा है। लोनिवि बीएम इंटरप्राइजेज के सहयोग से रोपवे का संचालन कर रहा है। अधिशासी अभियंता गौरव थपलियाल का कहना है कि बांध प्रभावितों से एक चक्कर के 10 रुपये और पर्यटकों से आने-जाने के सौ रुपये किराया लिया जा रहा है। रोप पर चार ट्राली लगाई गई है, जिसमें प्रत्येक ट्राली पर चार-चार व्यक्ति सफर कर सकते हैं। इनमें से दो-दो ट्राली दोनों तरफ से चलेगी। रोपवे चलने से प्रभावितों को स्यांसू-भल्डियाना पुल से लेकर पीपलडाली पुल होते हुए 20 से 30 किमी की अतिरिक्त दूरी तय नहीं करनी पड़ेगी। सरकार बांध प्रभावित क्षेत्र की समस्याओं के निराकरण को प्रयास कर रही है। रोपवे शुरू हो गया है, जिससे लोगों को बड़ी राहत मिल रही है। दिसंबर तक चांठी-डोबरा पुल से आवागमन शुरू करवाया जाएगा। इससे लोगों की दिक्कतें दूर हो जाएगी। -विजय सिंह पंवार, विधायक प्रतापनगर।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/XCL1lQAA

📲 Get Tehri News on Whatsapp 💬