[udaipur] - आधी रात को बारातियों से भरी बस पर हुआ पथराव, जब पुलिस पहुंची मौके पर तो उन पर भी हुआ हमला..

  |   Udaipurnews

उदयपुर . जिले के सेमारी थाना क्षेत्र के सदकड़ी गांव में गुरुवार रात को बारात की बस रोककर पथराव की सूचना पर पहुंची पुलिस दल पर हमला करने के मामले में 15 आरोपियों को नामजद करते हुए सात को गिरफ्तार किया। कांस्टेबल कांतिलाल की रिपोर्ट पर पुलिस की टीमों ने शुक्रवार सुबह नामजद आरोपितों के ठिकाने पर दबिश दी। इसमें चार चालानशुदा आरोपित सदकड़ी निवासी दिलीप पुत्र अमरा मीणा, जीवतराम पुत्र नगजी, संजय पुत्र अमरा, मोहनलाल पुत्र लक्ष्मण सहित जयंती लाल पुत्र गंगाराम, भवानीशंकर पुत्र अमरा, अमरा पुत्र ताजू मीणा को गिरफ्तार किया। पुलिस ने सभी के खिलाफ राजकार्य में बाधा, राजकीय संपत्ति को नुकसान पहुंचाने, जान से मारने के प्रयास और राहगीरों से साथ मारपीट का मुकदमा दर्ज किया। फरार अन्य आरोपित को पकडऩे को लेकर दबिशें दी जा रही है। कस्बे में दिनभर ग्रामीणो में इस घटनाक्रम की चर्चा रही। घायल पुलिसकर्मियों का एमबी अस्पताल मे इलाज चल रहा है।

यह हुई थी घटनागुरुवार सुबह कालीघाटी गई बारात में शामिल दिलीप पुत्र अमरा मीणा का किसी बात को लेकर विवाद हो गया। इस पर दिलीप ने साथी जयन्ती, भवानी शंकर, जीवराम, मोहनलाल को बारात में विवाद की जानकारी दी। इस पर कई लोग सदकड़ी रेलवे पल के पास एकत्र हुए। बारात की बस पर लौटते समय पथराव किया लेकिन बस निकल गई। इसके बाद इन्होंने राहगीरों पर पथराव शुरू कर दिया। दिलीप ने ही सेमारी थानाधिकारी श्यामसिंह को सदकड़ी के पास बस को रोकने और बस पर पथराव की सूचना दी। पुलिस की जीप उदयपुर स्थित मोटर विभाग में गई हुई थी। ऐसे में थाने से हैड कांस्टेबल लक्ष्मणलाल, कांस्टेबल फ तहसिंह, नरेन्द्रसिंह, लिम्बाराम ,कर्मवीर सिंह, रमेशलाल मौके पर पहुंचे। पुलिस को देखते वहां जमा लोग भागने लगे। इस दौरान उन्होंने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया था।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Nbn6DQAA

📲 Get Udaipur News on Whatsapp 💬