[unnao] - विधायक कुलदीप सेंगर की पीठ में दर्द, नहीं हो सकी तलबी पेशी

  |   Unnaonews

किशोरी से दुष्कर्म प्रकरण में विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की शुक्रवार को पॉक्सो कोर्ट में तलबी पेशी नहीं हो सकी। सीतापुर जेल अधीक्षक ने विधायक की पीठ में दर्द का हवाला देते हुए डाक्टरों की रिपोर्ट पर पेशी माफी का प्रार्थनापत्र भेजा। जबकि सह आरोपी शशि सिंह को पुलिस सीतापुर जेल से उन्नाव लेकर पहुंची और कोर्ट में पेशी कराई। विशेष न्यायाधीश पॉक्सो के अवकाश पर होने से एडीजे नौ की कोर्ट में पेशी कराई गई। एडीजे आशुतोष शर्मा ने विधायक और सह आरोपी की तलबी पेशी के लिए अगली तारीख छह जुलाई तय की है।

किशोरी के साथ दुष्कर्म के मामले में शुक्रवार को विधायक कुलदीप सिंह सेंगर व सहआरोपी शशि सिंह की पाक्सो कोर्ट में पेशी होनी थी। सीतापुर पुलिस को शुक्रवार सुबह दोनों आरोपियों को सीतापुर जेल से उन्नाव पॉक्सो कोर्ट लाना था। लेकिन विधायक कुलदीप सेंगर की पीठ में दर्द होने से डाक्टर ने सफर न करने की सलाह दी थी। डाक्टरों की रिपोर्ट के आधार पर सीतापुर जेल अधीक्षक ने न्यायालय में विधायक की पेशी माफी का प्रार्थनापत्र भेजा था। साथ ही मुकदमे में विधायक की सहआरोपी शशि सिंह को करीब 11 बजे पुलिस उन्नाव कोर्ट लेकर पहुंची। विशेष न्यायाधीश पॉक्सो कोर्ट राजेश उपाध्याय के अवकाश पर होने से उन्हें एडीजे नौ कोर्ट में पेश किया गया। इस दौरान विशेष अभियोजन पॉक्सो एक्ट चंद्रिका प्रसाद बाजपेयी के अलावा सीबीआई की टीम भी कोर्ट में मौजूद रही।

सीबीआई ने बाल कल्याण समिति में ली जानकारी

विधायक और सह आरोपी की पेशी होने से सीबीआई की पांच सदस्यीय टीम इंस्पेक्टर आरआर त्रिपाठी के नेतृत्व में सुबह ही कोर्ट पहुंच गई। सह आरोपी शशि सिंह की पेशी के बाद शाम करीब तीन बजे सीबीआई के अधिकारी जून 2017 में दर्ज हुए मुकदमे संबंधी जानकारी करने के लिए बाल कल्याण समिति पहुंचे। प्रभारी अध्यक्ष अरिंदम से मुलाकात की। समिति के अध्यक्ष ने सीबीआई को बताया कि माखी थाना पुलिस पीड़िता को 27 जून 2017 को समिति कार्यालय लेकर आई थी। वैधानिक व अभिलेखीय कार्रवाई पूरी करने के बाद पीड़िता की सहमति पर उसके माता-पिता के साथ भेजा गया था। कई और बिंदुओं पर जानकारी करने के बाद सीबीआई के अधिकारी वापस चले गए।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/kBcEFQAA

📲 Get Unnao News on Whatsapp 💬