[aligarh] - एएमयू छात्रों के समर्थन में आए कई दल

  |   Aligarhnews

एएमयू में जिन्ना की तस्वीर को लेकर मचे बवाल के बाद धरने पर बैठे एएमयू छात्रों के समर्थन में शनिवार को कई राजनीतिक दलों के नेता और जनप्रतिनिधि बाब-ए-सैयद पर पहुंचे। सपा जफर आलम, अशोक यादव, बसपा जमीर उल्लाह, मेयर मोहम्मद फुरकान, कांग्रेस के पूर्व सांसद विजेंद्र सिंह और जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव आदि नेताओं के अलावा जेनयू छात्र संघ की अध्यक्ष गीता कुमारी ने भी एएमयू पहुंचकर धरने पर बैठे छात्रों को हौसला बढ़ाया।

विभाजन के लिए जिन्ना नहीं, सावरकर जिम्मेदार : बिजेंद्र

राजनीतिक दल के नेताओं के बीच एएमयू छात्रों के धरने में पहुंचने की होड़ मची हुई है। पूर्व सांसद एवं कांग्रेस जिलाध्यक्ष चौधरी बिजेंद्र सिंह ने कहा कि भारत के विभाजन के लिए मोहम्मद अली जिन्ना नहीं बल्कि सावरकर जिम्मेदार हैं। एएमयू में जिन्ना की तस्वीर विवाद को उन्होंने भाजपा की चुनावी चाल बताया।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष के भाषण के दौरान छात्रों ने खूब तालियां बजाईं। उन्होंने सांसद सतीश गौतम द्वारा जिन्ना का मुद्दा उठाने का उल्लेख करते हुए कहा कि सवाल जिन्ना साहब की तस्वीर का नहीं है। यह तो भाजपा का बहाना है। कर्नाटक एवं लोकसभा चुनाव असली निशाना हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी कटाक्ष करते हुए कहा कि वे विदेशों में जाकर सेक्युलर चेहरा दिखाते हैं और अंदर जिन्ना के नाम पर विवाद कराते हैं। कहा कि हिंदू-मुस्लिम साथ नहीं होते तो देश कभी आजाद नहीं होता। बिजेंद्र ने कहा कि वे यहां राजनीति करने नहीं, बल्कि सच्चाई का साथ देने आए हैं। यहां के अधिकारी गलती स्वीकार कर रहे हैं, लेकिन दोषी लोगों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रहे। मेयर मो. फुरकान ने कहा कि न्याय के लिए लड़ाई जारी रहेगी। इस मुद्दे को लोकसभा में उठाएंगे। पूर्व विधायक व बसपा नेता हाजी जमीरउल्लाह ने कहा कि छात्रों के हित में यहां के लोग जेल भरेंगे। इस दौरान एएमयू छात्र संघ के अध्यक्ष मशकूर अहमद उस्मानी माइक से शांति बनाए रखने एवं मीडिया से दोस्ताना व्यवहार की अपील छात्रों से करते रहे। कार्यक्रम में जेएनयू की गीता, जामिया मिल्लिया के छात्र नेता मिराज हैदर, सामाजिक कार्यकर्ता मरियम खान, जफर आलम, अशोक यादव आदि शामिल हुए।

संसद में उठाऊंगा मसलाः पप्पू यादव

जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के मधेपुरा के सांसद पप्पू यादव ने कहा कि जरूरत पड़ी तो अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के छात्रों के लिए बिहार में आंदोलन चलाएंगे। वे शनिवार को एएमयू छात्र संघ द्वारा बाब-ए-सैयद पर आयोजित धरना सभा में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ एवं भाजपा पर जमकर हमला बोला। एएमयू छात्रों ने पप्पू यादव का जोशीला स्वागत किया। पप्पू को लेकर छात्रों का उत्साह एवं जोश देखने लायक था। उन्होंने कहा कि एएमयू छात्रों पर लाठीचार्ज का मामला दबने नहीं देंगे और इसे संसद में उठाएंगे। यह पप्पू का वादा है। यहां के छात्रों पर अत्याचार हुआ है। उन्होंने कहा कि जिन्ना की तस्वीर संसद में है। मुंबई में जिन्ना हाउस है। इस पर भाजपा क्यों नहीं कुछ कह रही है। दरअसल जिन्ना की तस्वीर के बहाने 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए साजिश हो रही है। पप्पू के भाषण के दौरान छात्रों ने खूब नारे लगाए। कार्यक्रम में काफी संख्या में छात्र मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि चंद रोज पहले एएमयू छात्र संघ के एक कार्यक्रम में सांसद पप्पू यादव शामिल हुए थे। उस समय भी उन्होंने भाजपा एवं आरएसएस पर जोरदार हमला कर एएमयू छात्रों के दिल में जगह बनाई थी। यहां तक कह दिया था कि भाजपा वालों की मां गाय तथा पिता बैल है। भाषण के दौरान उनके मुंह से तीन बार गाली तक निकल गई थी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/1oK-WQAA

📲 Get Aligarh News on Whatsapp 💬