[azamgarh] - अभिलेखों में हेराफेरी कर 25 बीघा जमीन पर जमाया कब्जा

  |   Azamgarhnews

निजामाबाद तहसील के मनरा गांव में 25 बीघे सरकारी जमीन पर फर्जी अभिलेखों के सहारे कब्जा करने का मामला प्रकाश में आया है। उक्त मामले की जांच के बाद एसडीएम निजामाबाद बागीश कुमार शुक्ला ने लाभार्थियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराते हुए भूमि को खाली कराने का निर्देश दिया है।

निजामाबाद तहसील के मनरा गांव में आजमगढ़-सुल्तानपुर मार्ग के किनारे ग्रामसमाज के चारागाह और जंगल की 25 बीघा जमीन है। मुख्य माग्र से सटी होने के कारण उक्त जमीन की कीमत लगभग 15 करोड़ रुपये आंकी गई है। इस भूमि पर इंद्रजीत पुत्र अनुज, मुन्नर, करमू, हुनई, बलिराज, चिथरु, हरिद्वार आदि ने लेखपाल की मिलीभगत से उक्त जमीन को फर्जी अभिलेखों के सहारे अपने नाम करा लिया।

जानकारी होने पर ग्रामवासियों ने इसकी शिकायत उप जिलाधिकारी निजामाबाद वागीश कुमार शुक्ला से की। एसडीएम ने उक्त मामले की जांच बंदोबस्त अधिकारी चकबंदी को सौंपते हुए आख्या मांगी। बंदोबस्त अधिकारी चकबंदी ने अपनी आख्या में उक्त भूमि को ग्रामसभा की बताया कि और उसमें दर्ज नामों को फर्जी अभिलेखों के सहारे दर्ज होना बताया।

उक्त जांच आख्या के आधार पर एसडीएम निजामाबाद ने फर्जी आदेशों के आधार पर जमीनों पर कब्जा किए लोगों के नाम खारिज कर जमीनों को ग्राम सभा के खाते में दर्ज करने और उसे खाली कराने का आदेश दिया। साथ ही तहसीलदार शिवसागर दुबे को इस कार्य में लिप्त दोषी कर्मचारियों और लाभार्थियों के विरुद्घ एफआईआर दर्ज कराने का निर्देश दिया।

इसी प्रकार और भी कई ग्रामों मेंफर्जी हेराफेरी करके सरकारी जमीनों पर भूमाफियाओं द्वारा कब्जा किया गया है। शीघ्र ही कड़ाई के साथ इनकी जांच कराई जाएगी और सरकारी भूमि के कागजों में हेराफेरी करने वाले कर्मचारियों और भूमाफियाओं के विरुद्ध शासन की मंशा के अनुरूप सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

बागीश कुमार शुक्ल

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ts3HwQAA

📲 Get Azamgarh News on Whatsapp 💬