[hamirpur-hp] - 16 वर्ष पहले शहीद हुए सैनिक के परिवार को दिया एक लाख का चैक

  |   Hamirpur-Hpnews

16 वर्ष पहले शहीद हुए सैनिक के परिवार को दिया एक लाख का चेक सेना की संस्था बीना नायर ने शहीद सुशील कुमार के बच्चों की शिक्षा के लिए प्रदान की राशि अमर उजाला ब्यूरो बड़सर/बिझड़ी(हमीरपुर)। उपमंडल की पंचायत बणी के गांव मंगरोली के शहीद सुशील कुमार पुत्र किशन सिंह के परिवार को सेना ने एक लाख रुपये का चेक प्रदान किया है। रविवार को सेना की ओर से नायब सूबेदार सुनील दत्त शहीद के बणी स्थित गांव मंगरोली पहुंचे और शहीद के परिवार को एक लाख रुपये की सहायता राशि प्रदान की गई। शहीदी के 16 साल बाद वर्दी में सेना के जवान घर-द्वार पहुंचे तो परिवार सदस्यों की आंखें नम हो गईं और पुरानी यादें फिर से ताजा हो गईं। बणी पंचायत के गांव मंगरोली का सुशील कुमार 16वीं बटालियन दी डोगरा रेजिमेंट में सेवारत था। दो वर्ष की नौकरी के उपरांत पंजाब के अमृतसर बाघा बॉर्डर के पास 5 जनवरी 2002 को माइनिंग ब्लास्ट में सुशील कुमार शहीद हो गया। 16 साल बाद सेना की ओर से नायब सूबेदार सुनील दत्त के घर पहुंचने पर परिवार की यादें ताजा हो गईं। उस दौरान शहीद की पत्नी अनुराधा गर्भवती थी। उसने एक बेटी को जन्म दिया। आज बेटी शिया पठानिया 16 वर्ष की हो चुकी है और जमा दो कक्षा में पढ़ रही है। परिवार सदस्यों के कहने पर अनुराधा की शादी देवर अनिल कुमार से कर दी लेकिन शहीद की मौत से जो जख्म मिले हैं, आज तक भर नहीं पाए हैं। उनका एक बेटा भी है। सेना की ओर से सूबेदार सुनील दत्त ने शहीद की पत्नी अनुराधा को एक लाख रुपये का चेक प्रदान किया। नायब सूबेदार सुनील दत्त ने बताया कि सेना की संस्था बीना नायर द्वारा शहीद के परिवार व बच्चों की शिक्षा के लिए यह राशि प्रदान की गई है। संस्था ने निर्णय लिया है कि शहीद के परिवारों को आर्थिक सहायता के अलावा बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए सहायता प्रदान की जाए। इस दौरान शहीद के पिता किशन सिंह, माता रीता देवी, भाई अनिल कुमार और बेटी शिया पठानिया आदि मौजूद रहे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/FdpvGgAA

📲 Get Hamirpur (HP) News on Whatsapp 💬