[hisar] - एन्हांसमेंट को लेकर हिसार में जुटेंगे 1

  |   Hisarnews

अमर उजाला ब्यूरोहिसार। हुडा सेक्टर कांफीडरेशन के संयोजक यशवीर मलिक ने कहा कि सीएम के साथ सरकारी कमेटी ने जो समझौता किया, वह हमें मंजूर नहीं। यह प्रदेश की जनता के साथ धोखा है। हम पर कोई एन्हांसमेंट नहीं बनती। एन्हांसमेंट का एक रुपया भी नहीं भरेंगे। प्रदेश के 18 जिलों से सेक्टरवासी रविवार को हिसार में सरकार जगाओ रैली में जुटेंगे। इसमें अगली रणनीति का एलान भी किया जाएगा। हुडा सेक्टर कांफीडरेशन के संयोजक यशवीर मलिक ने शनिवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि रातों रात सरकार ने एक कमेटी बनाई, जिसमें हिसार के अलावा अन्य किसी जिले से आंदोलन करने वाले सेक्टरवासियों को नहीं लिया गया। इस समझौते की पटकथा सरकार ने पहले ही लिख ली थी। हमारी छह मई की रैली को कमजोर करने के लिए एक षड्यंत्र रचा गया। एन्हांसमेंट को लेकर सरकार का फैसला जन विरोधी है। इसे सेक्टरवासी किसी कीमत पर नहीं मानेंगे। सोची-समझी साजिश के तहत सेक्टरवासियों को धोखा देने का प्रयास किया। पहले सरकार केलकुलेशन को तो सही करे। इसके बाद एन्हांसमेंट में छूट देेने का एलान करे। रोहतक में री केलकुलेशन कराने पर एन्हांसमेंट 1200 रुपये रह गई थी। रोहतक के ही एक दूसरे सेक्टर में एन्हांसमेंट की री केलकुलेशन कराई तो 1000 हजार प्रति गज तक कम हो गए थे। हिसार सेक्टर 9-11 में 1865 रुपये की एन्हांसमेंट की री केलकुलेशन कराई तो यह महज 37 रुपये रह गई थी। 60 प्रतिशत एन्हांसमेंट भरने की बात कहकर सरकार ने यह मान लिया है कि केलकुलेशन सही है। साथ ही सरकार ने यह दो महीने में भरने की बात कही है। नियम के अनुसार एन्हांसमेंट को भरने का समय तीन साल होता है। अगर अगले दो महीने में जो लोग 60 प्रतिशत भरेंगे तो तीन साल के ब्याज को जोड़कर वह 100 प्रतिशत से ज्यादा पहुंच जाएगी। एक तरह से सरकार हमसे पूरी वसूली कर रही है। हम पर कोई एन्हांसमेंट नहीं बनती है। एन्हांसमेंट का एक रुपया भी नहीं भरेंगे। आठ जिलों के 48 सेक्टरों में एन्हांसमेंट के नोटिस आ चुकेयशवीर मलिक ने कहा कि आठ जिलों के 48 सेक्टरों में एन्हांसमेंट के नोटिस आ चुके हैं। इसके अलावा 150 सेक्टर में नोटिस भेजने की तैयारी है। इसमें 300 रुपये से लेकर सात हजार रुपये तक की एन्हांसमेंट दी जा रही है। अगले आंदोलन का एलान भी करेंगेसरकार के इस फैसले से सेक्टरवासियों में आक्रोश बढ़ गया है। प्रदेश के 18 जिलों के सेक्टरवासी छह मई को हिसार पुराना राजकीय कॉलेज मैदान में पहुंचकर अपना विरोध जताएंगे। सरकार जगाओ रैली में आंदोलन की अगली रणनीति का एलान भी करेंगे। इस मौके पर सेक्टर एसोसिएशन के जिला प्रधान सतपाल ठाकुर, राज्य कार्यकारिणी सदस्य दलीप सिंह खरब, सेक्टर-16-17 आरडब्ल्यूए महासचिव नरेंद्र पिलानिया सरसाना, सेक्टर 1-4 प्रधान कर्नल चतर सिंह गोयत, सेक्टर-14 प्रधान इंजीनियर रविंद्र ढांडा, सतबीर कुंडू, विनोद बैनीवाल, वीरेंद्र चबरवाल, बलवान पूनिया, कुलबीर दूहन, सेक्टर 9-11 पूर्व प्रधान बीर सिंह बामल, बलवंत बूरा, बलबीर लाठर उपस्थित रहे समिति ने किया जनसंपर्क रविवार की रैली को जनसंघर्ष समिति के अध्यक्ष गौतम सरदाना ने समर्थन किया। राजगुरु मार्केट, गुरु जंभेश्वर मार्केट, लक्ष्मी मार्केट, मुलतानी चौक पार्क समिति, पीएलए ब्लॉक एक वेलफेयर सोसायटी, न्यू राजगुरु मार्केट, बिश्नोई मंदिर मार्केट, स्वामी विवेकानंद वेलफेयर सोसायटी के पदाधिकारियों ने सेक्टरवासियों की सरकार जगाओ रैली को समर्थन किया। रैली में शामिल होने का एलान किया। फैसला हमें भी मंजूर नहीं, स्वयंभू नेताओं की रैली में नहीं जाएंगे दोबारा : श्योराण = केलकुलेशन के बाद फिर से मिलेंगे सीएम से हिसार। एन्हांसमेंट के मुद्दे पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ हुई वार्ता के बाद सेक्टर 16-17 और सेक्टर-13 पार्ट टू की रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री द्वारा 40 प्रतिशत तक छूट देने की घोषणा पर असहमति जाहिर की है। अब एसोसिएशन ने सात सदस्यीय कमेटी का गठन किया है। जो उनके सेक्टर पर आई एन्हांसमेंट की दोबारा से े मुलाकात की जाएगी। शनिवार को सेक्टर-15 में पत्रकारों से बातचीत करते आरडब्ल्यूए प्रधान जितेंद्र श्योराण ने यह जानकारी दी। आरडब्ल्यूए प्रधान जितेंद्र ने बताया कि देर रात सरकार ने एन्हांसमेंट पर 40 प्रतिशत छूट देने और 60 प्रतिशत एन्हांसमेंट भरने की घोषणा की थी, लेकिन उनकी मांग एन्हांसमेंट को पूरी तरह खत्म करने की है। सेक्टर एसोसिएशन सरकार के इस कथित राहत वाले दावे का समर्थन नहीं करती। श्योराण ने कहा कि मुख्यमंत्री ने दोबारा एन्हांसमेंट की गणना के लिए कहा था। उस बात पर सहमति देते हुए उन्होंने फिर से केलकुलेशन करने के बाद सात सदस्यीय कमेटी बना दी है। इसका 80 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है। शेष काम भी जल्द पूरा किया जाएगा। इसके बाद सभी कागजातों और सबूतों सहित मुख्यमंत्री से दोबारा मुलाकात की जाएगी। जितेंद्र श्योराण ने कहा कि सरकार द्वारा गत रात्रि किये गए राहत वाले दावे के बाद सेक्टरवासियों में तरह-तरह की भ्रांतियां फैलाकर उन्हें गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा है, जो अनुचित है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग स्वयंभू प्रधान बनकर सेक्टरवासियों को गुमराह कर अपना राजनीतिक स्वार्थ सिद्ध कर रहे हैं। ऐसे लोगों से वे दूरी बनाए रखेंगे। इसलिए रविवार को होने वाली रैली में भी उनकी भागीदारी नहीं रहेगी। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर सरकार ने दोबारा केलकुलेशन के बाद भी एन्हांसमेंट को खत्म नहीं किया तो फिर सेक्टरवासियों को साथ लेकर बड़ा आंदोलन किया जाएगा। इस दौरान सेक्टर 9-11 आरडब्ल्यूए के प्रधान प्रवीन जैन, कृष्ण सिंधु, मुलखराज मेहता, शिशुपाल सैनी, सुजान सिंह बैनीवाल, सूबेसिंह लाठर, दलबीर कुंडू, मनफूल सिंह नैन, जयनारायण कादियान, डा. बलबीर ढांडी, ओमप्रकाश चावला, चंद्र कटारिया, संदीप बामल, आरके गोयल, राजीव अस्थाना, डीबी गुप्ता, पंकज जैन सहित अनेक पदाधिकारी और सदस्य उपस्थित थे। यह होगी सात सदस्यीय कमेटी रि-केलकुलेशन के लिए बनाई गई कमेटी में रिटायर्ड एसई मनफूल सिंह नैन, रिटायर्ड एसपी सूबेसिंह लाठर, रिटायर्ड आर्मी ऑडिटर बलबीर कुंडू, रिटायर्ड ऑडिटर ओपी चावला, रिटायर्ड जेई जगदीश जांगड़ा, बीएस माथुर व एडवोकेट अनिल जलंधरा को शामिल किया गया है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/KL61pQAA

📲 Get Hisar News on Whatsapp 💬