[kangra] - आयुर्वेदिक अस्पताल धर्मशाला के स्टाफ को नोटिस जारी

  |   Kangranews

आयुर्वेदिक अस्पताल धर्मशाला से गायब मिले डॉक्टर खाद्य आपूर्ति मंत्री किशन कपूर ने किया औचक निरीक्षण बिना अवकाश स्वीकृति से थे छुट्टी पर अमर उजाला ब्यूरो धर्मशाला। खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री किशन कपूर ने धर्मशाला में जिला आयुर्वेदिक अस्पताल और उपनिदेशक आयुर्वेद के कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान कई आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारी एवं कर्मचारी अस्पताल से नदारद मिले। किशन कपूर दोपहर करीब सवा 12 बजे अस्पताल पहुंचे थे। किशन कपूर ने चिकित्सकों की अनुपस्थिति पर नाराजगी जताते हुए सभी अनुपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों से स्पष्टीकरण तलब किया है। उन्होंने कहा कि बिना अवकाश स्वीकृति के गैरहाजिर रहे अधिकारियों-कर्मचारियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। खाद्य आपूर्ति मंत्री ने कहा कि सरकार अस्पतालों में किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं करेगी। अधिकारी ये ख्याल रखें कि चिकित्सालय में लोगों को किसी प्रकार की असुविधा न हो। उन्होंने अस्पताल में स्वच्छता व्यवस्था दुरुस्त रखने के निर्देश भी दिए। डेड़ सौ करोड़ से होगा कूहलों का सुदृढ़ीकरण क्षेत्रों में कूहलों के सुदृढ़ीकरण पर अगले पांच वर्षों में 150 करोड़ रुपये व्यय किए जाएंगे। यह बात खाद्य आपूर्ति मंत्री किशन कपूर ने कही। उन्होंने कहा कि धर्मशाला क्षेत्र में अधिकतर कूहलों के जरिए सिंचाई की व्यवस्था है। इस नई बहाव सिंचाई योजना से कूहलों का सुधार होगा और इससे किसान-बागवान बड़े स्तर पर लाभान्वित होंगे। किशन कपूर शनिवार को धर्मशाला की ग्राम पंचायत कंदरेहड़ और घणां में जनशिकायत निवारण कार्यक्रमों के दौरान बोल रहे थे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/GpOPdQAA

📲 Get Kangra News on Whatsapp 💬