[kanpur] - NEET: फुल शर्ट को काटकर बनाया हाफ, उतरवाया बुर्का, इसके बाद ही मिली इंट्री

  |   Kanpurnews

कानपुर। देशभर के मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिए नेशनल एलिजबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) रविवार को शहर के भी 25 केंद्रों पर हुआ। सूचना के बाद भी फुल आस्तीन की शर्ट पहनकर पहुंचे छात्रों की शर्ट कैंची से काटकर हाफ कर दी गई। इसके बाद ही प्रवेश दिया गया। इसी तरह जूता और बुर्का भी उतरवाकर अंदर जाने दिया गया। कुछ छात्र प्रिंटेड टी-शर्ट पहनकर पहुंचे थे, उन्हें वापस भेजकर बदलकर आने को कहा गया। शहर में पंजीकृत 17524 छात्रों में दो प्रतिशत (करीब 350) ने परीक्षा नहीं दी।

परीक्षा के नोडल अफसर पूर्णचंद्र विद्या निकेतन स्कूल के प्रधानाचार्य भाष्कर गैंटी ने बताया कि परीक्षा सुबह दस से एक बजे तक थी। साढ़े नौ बजे तक पहुंचने वाले छात्रों को ही एंट्री दी गई। अलग-अलग चार केंद्रों पर साढ़े नौ बजे के बाद पहुंचने वाले सात छात्रों को अंदर नहीं जाने दिया गया। उन्होंने बताया कि बुर्का, कृपाण, कड़ा पहनकर जो छात्र 8:30 से पहले परीक्षा केंद्र नहीं पहुंचे थे, उन्हीं का बुर्का आदि उतरवाया गया। क्योंकि पहले सूचना जारी कर दी गई थी कि ऐसे छात्र 8:30 तक केंद्र पहुंच जाए ताकि उनकी ठीक से चेकिंग हो सके।

हाथ टूटने के कारण पड़ी थी प्लेट, बमुश्किल मिला प्रवेश

कल्याणपुर स्थित गुरुनानक मॉडर्न स्कूल में केशवपुरम के अक्षत सानिध्य को बड़ी मुश्किल से प्रवेश मिला। अक्षत पिछली साल ट्रेन से गिर गए थे, उनका दाहिना हाथ टूट गया था। हाथ में प्लेट डाली गई थी। अक्षत जब परीक्षा केंद्र पहुंचे तो मेटल डिटेक्टर में चेकिंग के बाद उन्हें रोक लिया गया। पिता शिशिर श्रीवास्तव ने पूरा घटनाक्रम बताया तब जाकर उसे प्रवेश मिला। शिशिर श्रीवास्तव ने बताया कि केंद्र पर दो शिक्षकों ने बेटे और उनसे अभद्रता भी की। वे इसकी शिकायत सीबीएसई से करेंगे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Ryq-QQAA

📲 Get Kanpur News on Whatsapp 💬