[mainpuri] - डायरिया से जिला अस्पताल में बालक की मौत

  |   Mainpurinews

मैनपुरी। जनपद में डायरिया के मरीजों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। लगातार डायरिया से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। जिला अस्पताल में भर्ती डायरिया से पीड़ित एक मासूम बालक की मौत हो गई। जबकि डायरिया से पीड़ित 18 अन्य मरीजों को गंभीर हालत के चलते भर्ती कराया गया।

पिछले एक महीने से जनपद में डायरिया का प्रकोप चल रहा है। लोग पेटदर्द के साथ उल्टी दस्ता का शिकार हो रहे हैं। पिछले एक महीने में जनपद में डायरिया से पीड़ित पांच मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं 600 से अधिक मरीज जिला अस्पताल में भर्ती कराए गए हैं। बरसात के बाद अचानक शुरू हुई उमसभरी गर्मी ने एकबार फिर से लोगों के पेट का हाजमा बिगाड़ दिया है।

जिला अस्पताल में अचानक पेटदर्द और उल्टीदस्त के मरीजों की संख्या बढ़ गई है। शनिवार को जिला अस्पताल में डायरिया, पेटदर्द आदि से पीड़ित होने पर 300 से अधिक मरीजों को प्राथमिक उपचार दिया गया जबकि 18 मरीजों को गंभीर हालत के चलते भर्ती कराया गया। जिला अस्पताल में भर्ती थाना दन्नाहार क्षेत्र के गांव कपूरपुर निवासी वीरेंद्र सिंह के डेढ़ वर्षीय पुत्र शाहिल की डायरिया से पीड़ित होने पर जिला अस्पताल में मौत हो गई।

डॉ.जेजे राम ने बताया कि शाहिल को गंभीर हालत में भर्ती कराया गया था। उसे बचाने का प्रयास किया गया लेकिन रोग बढ़ चुका था। इसलिए उसे बचाया नहीं जा सका। फिजीशियन डॉ. जेजे राम का कहना है कि यह मौसम ऐसा है, जिसमें भारी भोजन करने से पेटदर्द और डायरिया जैसी दिक्कतें हो रही हैं। उन्होंने लोगों से सुझाव दिया कि लोग गर्मी के मौसम में हल्का खाना खाएं।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/IooblQAA

📲 Get Mainpuri News on Whatsapp 💬