[mirzapur] - अन्याय के बावजूद मामले को राजनैतिक रंग दिए जाने पर जताई चिंता

  |   Mirzapurnews

मिर्जापुर। मेरे के सदस्य के साथ हलिया में 29 अप्रैल को अन्याय हुआ बावजूद इसके कुछ लोग उसमें सहयोग करने की बजाय राजनीतिक ढंग से इस नया रूप देने का प्रयास कर रहे हैं। अगर किसी को लगता है कि इसमें अन्याय हुआ है तो किसीी स्वतंत्र जांच एजेंसी से पूरे घटना की जांच करा ली जाए। जिससे दूध का दूध पानी का पानी हो जाए। ये बाते अपना दल एस के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं एमएलसी आशीष सिंह पटेल ने नगर के भरूहना स्थित सांसद अनुप्रिया पटेल के कैंप कार्यालय पर शनिवार को कही। उन्होंने कहा कि 29 अप्रैल को मेंरे परिवार के सदस्य के साथ हलिया थाना अन्तर्गत ड्रमंडगंज बाजार में छिनैती व लूटपाट के साथ अभद्र व्यवहार की घटना हुई थी। घटना में शामिल लोगों के विरुद्घ शिकायत करने हेतु परिवार के सदस्य चौकी पहुंचे तो वहां मौजूद सिपाही ने किस तरह मेरे भाई के साथ व्यवहार किया इस बात का खुलासा वायरल वीडियों में देखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि पहले थाने या चौकी कौन जाता है। जो अपराध करता है या जो पीड़ित होता है। पहले मेरा परिवार पहुंचा इससे यह साबित होता है कि मेरा परिवार पीड़िता था। यदि उन लोगों के साथ कोई बात हुई थी तो कम से कम सौ नंबर पुलिस को सूचना दे सकते थे। पर ऐसा नहीं किया गया। विधान परषिद सदस्य ने कहा कि ड्रमंडगंज क्षेत्र में यह लूट की कोई पहली घटनाएं नहीं हैं। पूर्व में भी यहां लोगों के साथ लूटपाट किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि दो प्रदेशों का बार्डर होने के कारण यह इलाका अपराधियों का अड्डा बन चुका है। विधान परिषद सदस्य ने एक दो, दिनों से इस घटना को राजनीतिक रंग दिए जाने की कोशिश की जा रही है इस यह दुख की बता है। कहा कि कुछ व्यक्तिगत कारणों से विश्व हिन्दू परिषद के जिलाध्यक्ष नाराज चल रहे हैं। नाराजगी के चलते वे केन्द्रीय परिवार कल्याण एवं स्वास्थ्य राज्यमंत्री के साथ अपमान जनक व्यवहार तक कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि श्री शुक्ल को अपने ही सरकार के पुलिस पर भरोसा नहीं तो किसी भी अन्य जांच एजेंसी से पूरे मामले की जांच कराए ले जिससे दूध का दूध व पानी का पानी किए जाने की मांग की है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/LJXlCgAA

📲 Get Mirzapur News on Whatsapp 💬