[pilibhit] - लापता अविवाहित महिला का गन्ने के खेत में मिला शव

  |   Pilibhitnews

03पीबीटीपी-19,20 लीड........अविवाहित महिला का गन्ने के खेत में मिला शवक्रासर...जमीन के विवाद में गला दबाकर हत्या की आशंका, शव पीएम को भेजा भाई ने गांव के युवक पर दर्ज कराई रिपोर्ट, आरोपी हिरासत में अमर उजाला ब्यूरो पीलीभीत। जानवरों के लिए घास लेने घर से निकलने के बाद शुक्रवार दोपहर करीब ढाई बजे से लापता चल रही गांव भंबापुरी गौटिया निवासी 35 अविवाहित महिला जगदई पुत्री मथुरा प्रसाद का शव दूसरे दिन शनिवार दोपहर एक बजे पड़ोस के गांव अलकथान में गन्ने के खेत में पड़ा मिला। शरीर पर चोट के निशान और गले पर दुपट्टा कसा होने से उसकी गला दबाकर हत्या करने की आशंका प्रतीत हो रही है। परिवार वालों ने जमीन के विवाद के चलते हत्या का आरोप लगाते हुए गांव के एक व्यक्ति के खिलाफ नामजद तहरीर पुलिस को दी है। एसपी, एएसपी ने पुलिस बल के साथ मौका मुआयना कर जानकारी जुटाई। जिसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बरखेड़ा थाना क्षेत्र के भंबापुरी गौंटिया निवासी जगदेई माता-पिता की मौत के बाद अपने पैतृक मकान में अकेली रहती थीं। भाई-बहन अलग रहते हैं। बकरी और गाय पालन कर वह गुजर बसर कर रही थीं। शुक्रवार दोपहर करीब ढाई बजे वह जानवरों के लिए घास लेने के लिए अपने खेत पर गई थीं। शनिवार दोपहर करीब एक बजे परिजन उसको तलाशते हुए पड़ोस के गांव अलकथान पहुंचे। यहां एक जगह पर घास का ढेर पड़ा मिला। इसके बाद कुछ आगे बढ़कर छदम्मीलाल के गन्ने के खेत में घुसे तो लापता महिला जगदेई का शव पड़ा मिला। उसकी गर्दन पर दुपट्टा कसा हुआ था, पास में उलटी पड़ी हुई थी और आंखें उभरी हुई थीं। इसके अलावा सिर व शरीर पर चोट के निशान पाए गए। यह देख परिजनों ने सूचना पुलिस को दी। इसके बाद एसपी बालेंदू भूषण सिंह, एएसपी रोहित मिश्र, सीओ बीसलपुर अनुराग दर्शन, एसएचओ मनोज कुमार त्यागी मौके पर पहुंचे। मौका मुआयना करने के बाद प्रथम दृष्टया महिला की गला दबाकर हत्या करने की बात सामने आई। परिजनों से जानकारी करने पर मृतका के भाइयों ने बताया कि उसकी एक माह से गाव के ही राजेंद्र पुत्र हरप्रसाद से जमीन की रंजिश चल रही है। इसी में हत्या करने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी गई। जिसके बाद शव को पीएम के लिए भेज दिया है। 000 परिजन बोले, कई दिनों से हत्या की धमकी दे रहा था आरोपी महिला जगदेई की माता का काफी समय पहले देहांत हो चुका है। दस साल पहले पिता की भी मौत हो गई। दो बहनें शांतिदेवी और नत्थोदेवी की शादी हो चुकी है। इसके अलावा तीन भाई ख्यालिराम, श्यामबिहारी और मोहनलाल अपने परिवार के साथ अलग रहते हैं। परिजनों के मुताबिक करीब एक माह पूर्व गांव के ही हरप्रसाद के बेटे शांति स्वरूप हादसे में घायल हो गया था। उसने अपने इलाज के लिए महिला से रुपये लिए थे। इसके एवज में एक बीघा जमीन उसके नाम कर दी थी। जमीन का बैनामा कराए जाने के बाद से हरप्रसाद का दूसरा बेटा राजेंद्र काफी नाराज था। वह कई दिनों से जमीन खरीदने पर जगदेई की हत्या करने की खुलेआम धमकी दे रह था। अब महिला का शव मिलने के बाद परिजनों ने उसी के आधार पर कानूनी कार्रवाई कराई है। 000 महिला के भाई मोहनलाल से मिली तहरीर के आधार पर आरोपी राजेंद्र के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। आरोपी को हिरासत में लिया गया है। उससे पूछताछ कर जानकारी जुटाई जा रही है। मनोज कुमार त्यागी, एसएचओ बरखेड़ा

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ivwOwwAA

📲 Get Pilibhit News on Whatsapp 💬