[rudraprayag] - केदारनाथ पैदल मार्ग पर लिनचोली से बेस कैंप तक होगा विकसित

  |   Rudraprayagnews

रुद्रप्रयाग। केदारनाथ यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं के सामने ठहरने की समस्या न हो, इसके लिए यात्रा पड़ावों को विकसित किया जाएगा। प्रशासनिक स्तर पर छोटी लिनचोली से छानी कैंप और रुद्रा प्वाइंट से बेस कैंप तक भू-गर्भीय सर्वेक्षण कराया जाएगा, जिससे इस क्षेत्र में आने वाले दिनों में 5 से 8 हजार यात्रियों के एक रात में ठहरने की उचित व्यवस्था हो सके। जिला प्रशासन की ओर से यात्रा के पैदल मार्ग के पड़ावों को विकसित करने की योजना बनाई जा रही है। अधिकारियों के अनुसार जल्द ही छोटी लिनचोली से बेस कैंप तक करीब पांच किमी क्षेत्र का भू-गर्भीय सर्वेक्षण कराया जाएगा। क्षेत्र में 8 हजार यात्रियों और यात्रा ड्यूटी पर तैनात अधिकारियों के ठहरने की उचित व्यवस्था संभावनाओं को तलाशा जाएगा। जबकि रामाबाड़ा-केदारनाथ पैदल मार्ग पर विकसित नए पड़ाव लिनचोली का भविष्य में विस्तार किया जाएगा। यहां पर कम से कम 15 सौ से 2000 यात्रियों के ठहरने और 50 दुकानों की व्यवस्था का खाका तैयार किया जाएगा। यहां पर वर्तमान में हट्स व टेंट में करीब 7 सौ यात्रियों के ठहरने की व्यवस्था की गई है। साथ ही 10 से अधिक दुकानें हैं। डीएम मंगेश घिल्डियाल ने बताया कि केदारनाथ की यात्रा को सुरक्षित, सरल और व्यवस्थित करने के लिए अधिक व्यवस्थाओं की जरूरत महसूस हो रही है। छोटी लिनचोली से बेस कैंप तक क्षेत्र का भू-गर्भीय सर्वेक्षण की योजना बनाई जा रही है। सर्वेक्षण के आधार पर क्षेत्र में यात्रा व्यवस्थाओं को स्थापित किया जाएगा, जिससे धाम में भी ज्यादा भीड़ न हो और बाबा केदार के भक्त यात्रा का सुखद आनंद ले सके।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/AAwehgAA

📲 Get Rudraprayag News on Whatsapp 💬