[sant-kabir-nagar] - पुलिस पर हमला

  |   Sant-Kabir-Nagarnews

संतकबीरनगर। कोतवाली क्षेत्र के जूरी गांव में छेड़खानी के विवाद को लेकर जमकर बवाल हुआ। दो समुदायों के बीच शनिवार को जमकर ईंट-पत्थर चले जिसमें दस लोग घायल हो गए। इसी बीच घटना की सूचना पर जांच करने गांव पहुंची डायल 100 की टीम पर एक पक्ष के लोगों ने पथराव कर दिया। इसमें एक दीवान समेत तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए। सूचना पर पांच थानों की पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों पक्षों के 19 लोगों को हिरासत में ले लिया। बाद में सदर विधायक दिग्विजय नारायन उर्फ जय चौबे ने भी मौके पर पहुंचकर घटना जायजा लिया और शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की। विधायक ने ग्रामीणों को इस मामले में निष्पक्ष कार्रवाई का भरोसा दिलाया। बघौली प्रतिनिधि के अनुसार जूरी गांव में तीन मई को एक युवती के साथ छेड़खानी की घटना हुई थी। उसी विवाद में आरोपियों ने बाप-बेटी समेत तीन लोगों को मारपीट कर घायल कर दिया था। पीड़ित पक्ष की ओर से मो. आमिर, एजाज अहमद और तौकीर अहमद पर छेड़खानी और मारपीट का केस दर्ज कराया गया था। ग्रामीणों का कहना है कि आरोपी पक्ष के लोग मुकदमा दर्ज कराने से नाराज चल रहे थे। उसी विवाद में शनिवार की सुबह दोनों समुदायों के लोग आमने-सामने हो गए। इसमें एक पक्ष से तीन सगी बहनों समेत सात लोग घायल हो गए जबकि दूूसरे पक्ष से भी तीन लोगों को चोटें आईं। सूचना पर डायल 100 की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस ने कार्रवाई शुरू की तो एक पक्ष के लोगों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। इसमें दीवान कामेच्छा सिंह, कांस्टेबल उमेश कुमार और चालक होमगार्ड को चोटें आईं। घटना के बाद कोतवाली, धनघटा, दुधारा, बखिरा और मेंहदावल आदि थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। घायल कामेच्छा सिंह का सिर फटने के साथ ही बाएं हाथ की हड्डी टूट गई है। एक पक्ष का आरोप है कि पुलिस टीम ने घरों में घुसकर लोगों को पकड़ा और जमकर तांडव मचाया।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/nOFmwAAA

📲 Get Sant Kabir Nagar News on Whatsapp 💬