[shimla] - बेटी बचाने के लिए 1500 महिलाओं ने पारंपरिक परिधानों में डाली नाटी

  |   Shimlanews

सैंज घाटी में चल रहे मेले में रविवार को ‘बेटी है तो भविष्य है’ की थीम पर कुल्लू महानाटी का आयोजन किया गया। इसमें करीब 1500 महिलाओं ने पारंपरिक परिधानों में सज-धजकर एक साथ सामूहिक नाटी डाली।

नाटी में भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा की महामंत्री धनेश्वरी ठाकुर, एसपी कुल्लू शालिनी अग्निहोत्री ने भी शिरकत की। धनेश्वरी ठाकुर ने कहा कि ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ का अर्थ है कि बेटी को जन्म देना और उसे पढ़ाना और उसका आदर करना है।

बंजार के विधायक सुरेंद्र शौरी ने कहा कि महानाटी का आयोजन सैंज में पहली बार हुआ है। यह सैंज घाटी के लिए एक मिसाल बनी है। कहा कि सोमवार को वन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर मेले के समापन समारोह में आंएगे।

इस मौके पर एसडीएम बंजार एमआर भारद्वाज, भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य बनवारी लाल ठाकुर, बीडीसी सदस्य मंगलोर अनिता देवी, मेला के प्रधान प्रीतम सिंह नेगी, सचिव झाबे राम, जिला परिषद अध्यक्ष रोहिणी चौधरी आदि उपस्थित रहे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/gEskEQAA

📲 Get Shimla News on Whatsapp 💬