[varanasi] - हत्यारोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन

  |   Varanasinews

थानागद्दी। केराकत कोतवाली क्षेत्र के नुआंव गांव की दलित बस्ती की युवती के हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शनिवार को गांव के लोगों ने नुआंव-ंसिधोरा मार्ग पर प्रदर्शन कर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। पुलिस पर हत्यारों को बचाने का आरोप लगाया। सड़क पर करीब आधे घंटे हो हल्ला मचाने के बाद ग्रामीण खुद ही चले गए। गांव की युवती 21 अप्रैल को लापता हो गई थी। उसी दिन परिवार के लोगों ने गांव के ही एक युवक पर अपहरण का आरोप लगाते हुए तहरीर दी थी। पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी रही। 26 अप्रैल की शाम बस्ती से दूर सुनसान स्थान पर स्थित कुएं से उसकी लाश बरामद हुई। शव मिलने के दस दिन बाद भी पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की। युवती के परिजनों ने तीन मई को डीएम और एसपी से मिलकर न्याय की गुहार लगाई थी। अफसरों ने पीड़ित परिवार को न्याय का भरोसा दिया था। आश्वासन के दो दिन बीतने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई तो शनिवार को ग्रामीणों के साथ प्रदर्शन किया। गांव के पचास से अधिक की संख्या में लोग नुआंव-सिंधोरा मार्ग पर पहुंचे और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। परिवार वालों का आरोप था कि पुलिस को घटना की रात्रि ही सूचना दे दी गई थी पर आरोपी के विरुद्ध आज तक कोई कार्रवाई नही हुई। उलटे पुलिस पीड़ित परिवार को ही प्रताड़ित कर रही है। पूछताछ के नाम पर उल्टी-सीधे सवाल किए जा रहे हैं। हत्या के बाद साक्ष्य मिटाने के लिए उसका शव कुएं में फेंक दिया। क्षेत्राधिकारी दिग्विजय सिंह का कहना है कि इस मामले में चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद हत्या और दलित उत्पीड़न की धारा में भी केस दर्ज कर लिया गया है। शीघ्र ही आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Od9QnwAA

📲 Get Varanasi News on Whatsapp 💬