[auraiya] - फिर आंधी-पानी ने मचाई तबाई

  |   Auraiyanews

औरैया। जिले भर में एक बार फिर तेज आंधी और बारिश ने किसानों को दहला दिया। मौसम विभाग की चेतावनी के अनुसार रविवार की देर शाम एकाएक बीहड़ी क्षेत्र से उठी आंधी देखते ही देखते पूरे जनपद भर में फैल गई। आंधी के साथ औरैया शहर समेत ग्रामीण इलाकों में तेज बारिश भी शुरू हो गई। कुल बारिश 3.3 एमएम और आंधी की तीव्रता 10 किलोमीटर प्रति घंटा के हिसाब से मौसम विभाग के अनुसार बताई गई। किसानों का अब भी जो कटा हुआ गेहूं गट्ठर के रूप में पड़ा था वह भी पानी में भीग कर खराब हो गया। इधर तेज आंधी से लोगों का गृहस्थी का सामान भी हवा में उड़कर कहीं का कहीं पहुंच गया। शहर समेत ग्रामीण इलाकों की बिजली व्यवस्था ठप हो गई। दर्जनों तार टूटकर गिर गए। पेड़ गिरने की खबर भी मिल रही हैं।

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार छह मई को तेज हवाओं के साथ आंधी के आसार थे। जिसका असर रविवार की शाम लगभग चार बजे देखने को मिला। हालांकि मौसम विभाग के आसार पूरी तरह सफल होते नहीं दिखे। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार रविवार को अधिकतम तापमान दोपहर दो बजे 43.1 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। जबकि न्यूनतम तापमान 26.3 डिग्री सेल्सियस ही रहा। वहीं सुबह के समय हवाएं तीन से चार किलो मीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से पूरब दिशा की ओर चलीं। शाम के समय यह हवाएं आठ से 10 किलो मीटर की रफ्तार से चलीं। जिस कारण शाम के समय पीली आंधी देखने को मिली। हालांकि इसका असर जिले के कुछ हिस्सों में रहा। कहीं हल्की तो कहीं तेज बारिश रही। जबकि जिले का कई हिस्से में पानी नहीं बरसा। आंधी का एहसास रहा।

रविवार की शाम लगभग साढ़े चार बजे बीहड़ी क्षेत्र अयाना के अलावा फफूंद, पाता दिबियापुर, अछल्दा, बिधूना,अजीतमल, रुरुगंज,कंचौसी आदि समेत पूरे जनपद में आंधी और बारिश का असर देखने को मिला। बारिश देखने को मिली। जब कि अन्य शहरों व कस्बों में मौसम सुहाना होने पर लोगों को गर्मी से निजात मिली। इधर फफूंद और पाता क्षेत्र के किसान गेहूं के गट्ठर सूख जाने की राह देख रहे थे पर तेज आंधी और बारिश ने किसानों का पूरा समीकरण ही बिगाड़ दिया।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/P2dqNgAA

📲 Get Auraiya News on Whatsapp 💬