[delhi-ncr] - खुले में नमाज पढ़ने के विवाद पर खट्टर का यूटर्न, विज बोले- जमीन कब्जाने की नीयत से न पढ़ें नमाज

  |   Delhi-Ncrnews / Delhinews

गुरुग्राम में खुले में नमाज पढ़ने को लेकर शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। इस मामले में हरियाणा के मुख्यमंत्री अब अपने रविवार को दिए बयान से पलट गए हैं। बयान पर राजनीति गरमाती देख सीएम मनोहर लाल खट्टर ने नमाज मस्जिद में ही पढ़ी जानी चाहिए वाले बयान से यू-टर्न ले लिया है।

खट्टर ने अब अपने ताजा बयान में कहा है कि उन्होंने खुले में नमाज पढ़ने से रोक लगाने की बात नहीं कही थी। उन्होंने कहा, 'मैंने खुले में नमाज पढ़ने पर रोक लगाने की बात नहीं की है। अगर किसी को खुले में नमाज पढ़ने में परेशानी आ रही है तो वो पुलिस प्रशासन से संपर्क करें।' यह बात खट्टर ने दिल्ली एयरपोर्ट पर कही है। वह आज से दस दिन के विदेश दौरे पर जा रहे हैं।

विवाद के बीच अनिल विज ने दे डाला ये बयान

खुले में नमाज पढ़ने को लेकर चल रहे विवाद में अब खट्टर के कैबिनेट मंत्री अनिल विज भी कूद पड़े हैं। उन्होंने कहा, 'अगर किसी को कभी-कभी नमाज पढ़नी पड़ जाती है तो धर्म की आजादी है। लेकिन किसी जगह को कब्जा करने की नीयत से नमाज पढ़ना गलत है। उसकी इजाजत नहीं दी जा सकती।'

खट्टर का पुराना बयान

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने नमाज को लेकर लोगों के एतराज को जायज ठहराते हुए रविवार को कहा कि इसे मस्जिद, ईदगाह या निजी स्थान पर ही अदा किया जाना चाहिए। लोग इस पर आपत्ति जताते हैं, जिस पर सावधानी बरतनी होगी। यदि किसी को किसी भी प्रकार की आपत्ति है तो प्रशासन व पुलिस को अवगत करा सकता है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/iUCR2QAA

📲 Get Delhi NCR News on Whatsapp 💬