[ghazipur] - पुलिस जांच में लूट की घटना निकली झूठी

  |   Ghazipurnews

मुहम्मदाबाद (गाजीपुर)। नगर स्थित इलाहाबाद बैंक यूसुफपुर शाखा से एक लाख रुपये निकालकर शनिवार को घर जा रही एक महिला से लूट की घटना पुलिस की जांच में झूठी निकली। पुलिस ने महिला की ओर से दर्ज कराया गया मुकदमा खारिज कर दिया है। साथ ही झूठा मुकदमा दर्ज कराने पर महिला के खिलाफ कार्रवाई करने में पुलिस जुटी गई है। नगर के जफरपुरा मुहल्ला निवासी दशरथ राम की पत्नी सोमारी देवी ने शनिवार को कोतवाली पुलिस को लूट की तहरीर दी थी। तहरीर में उसने पुलिस को बताया कि वह यूसुफपुर शाखा के इलाहाबाद बैंक से पैसा निकालकर घर जा रही थी। तभी पुराने अस्पताल के पास गली में घूमते समय पीछे से आए मुहल्ले के ही एक युवक ने रुपयों से भरा झोला छीन लिया और फरार हो गया। महिला की ओर से दी गई नामजद तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी। छानबीन में पुलिस ने पाया कि लूट की घटना झूठी है। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि जफरपुरा मुहल्ला निवासी दशरथ राम का नसीर खां नाम व्यक्ति से भूमि संबंधी विवाद चल रहा है। दशरथ राम की तरफ से तीन दिन पूर्व नसीर खां के खिलाफ रंगदारी मांगने तथा कट्टा एवं बम बनाने की शिकायत पुलिस से की गई थी। दशरथ राम ने नसीर खां पर आरोप लगाया था कि उसका विपक्षी मकान पर चल रहे मुकदमे को उठा लेने का दबाव बना रहा है। मुकदमा नहीं उठाने पर सजा भुगतने की धमकी देता है। इसी क्रम में दशरथ राम की पत्नि सोमारी देवी बैंक से एक लाख रुपये निकालने के बाद लूट की मनगढ़ंत कहानी बनाकर कोतवाली में तहरीर दी। इस पर पुलिस ने लूट का मामला दर्जकर कार्रवाई शुरू कर दी। छानबीन में लूट की मामला झूठ निकाला। पुलिस ने मामले के झूठ निकलते ही महिला की ओर से दर्ज कराए लूट के मुकदमे को खारिज कर दिया। इस संबंध में कोतवाल विमल कुमार मिश्रा ने बताया कि महिला द्वारा लूट की तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया गया था। जब मामले की छानबीन शुरू हुई तो मामला पूरी तरह झूठ निकला। महिला के द्वारा दर्ज कराए गए मुकदमे को खारिज कर दिया गया। साथ ही झूठा मुकदमा दर्ज कराने के आरोप में महिला के खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी शुरू कर दी गई है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/92m07QAA

📲 Get Ghazipur News on Whatsapp 💬