[ghazipur] - हमें नई तकनीकी शिक्षा व्यवस्था के प्रति सोचना होगा

  |   Ghazipurnews

गाजीपुर। संचार-रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि प्रधानमंत्री के सपनों के नए भारत का निर्माण 2022 तक हमें करना है। उससे पहले हमें नया उत्तर प्रदेश बनाना होगा। नए उत्तर प्रदेश के निर्माण के लिए गाजीपुर जिला एवं यहां के गांवों में भी नव निर्माण करना होगा। लोगों की मूलभूत आवश्यकता से परे हमें नई तकनीकी शिक्षा व्यवस्था के प्रति भी सोचना होगा। इसी सोच के तहत जिले के गरीब, पिछड़े, संसाधनविहीन गांवों में आधुनिक तकनीकी शिक्षा के तहत निशुल्क कंप्यूटर प्रशिक्षण की व्यवस्था की जा रही है। यह बातें उन्होंने रविवार को सदर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पंचायत हेतिमपुर, लंगड़पुर के पंचायत भवन में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की ओर से नव निर्मित अत्याधुनिक कंप्यूटर प्रशिक्षण केंद्र के लोकार्पण के अवसर पर कही। उन्होंने कहा कि समाज के हर वर्ग के समावेशी एवं सर्वस्पर्शी विकास के लिए गुणात्मक शिक्षा का होना जरूरी है। सरकार का ईमानदारी से प्रयास है कि लोगों के जीवन स्तर को सरकार की विभिन्न जनकल्याण की योजनाओं के माध्यम से उठाया जाए एवं देश के आर्थिक विकास दर को बढ़ाया जाए। उन्होंने कहा कि गांव में तकनीकी शिक्षा का यह प्रबंध अनुकरणीय एवं समाज के उन बच्चों के लिए महत्वपूर्ण है, जो संसाधन के अभाव में तकनीकी शिक्षा से दूर है। जिले के सांसद एवं केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा के सार्थक प्रयास से रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की ओर से जिले के विभिन्न 10 गांवों में नि:शुल्क कंप्यूटर प्रशिक्षण केंद्र खुल रहा है। पूर्व में बोगना एवं बिरनो आदि गांवों में इनका लोकार्पण हो चुका है। हेतिमपुर के प्रशिक्षण केंद्र पर 40 बच्चों का नामांकन हुआ, जिन्हें बेसिक एवं लेखा आदि कार्यक्रम की जानकारी नि:शुल्क दी जाएगी। इस अवसर पर विधायक डॉ. संगीता बलवंत, जिलाध्यक्ष भानूप्रताप सिंह, सुनील सिंह, प्रभुनाथ चौहान, अच्छेलाल गुप्ता, सोमारू चौहान, अमरेश गुप्ता, संजीव गुप्ता, मनोज बिंद, पवंजय पांडेय, गोपाल राय, विभा पाल एवं रंजीत कुमार आदि उपस्थित थे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/V_BiOQAA

📲 Get Ghazipur News on Whatsapp 💬