[pratapgarh] - करोड़ों खर्च के बाद तालाब में बूंद भर पानी भी नहीं

  |   Pratapgarhnews

ग्रामीण इलाकों में ताल-तलइया सूख गए हैं। संकट इतना गहरा गया है कि पशु-पक्षियों को भी प्यास बुझाने के लिए भटकना पड़ रहा है। करोड़ों खर्च कर खोदे गए तालाब सूखे पड़े हैं। मनरेगा, लघु सिंचाई विभाग और आईडब्लूडीपी योजना के तहत जिले में खोदे गए 2643 तालाबों में बूंद भर भी पानी नहीं है।

भीषण गर्मी का दौर प्रारंभ होते ही ग्रामीण इलाकों में पीने के पानी की समस्या गहरा गई है। तालाब और पोखरों में बूंद भर पानी नहीं है। इससे पशु-पक्षियों के साथ ही जंगली जानवरों को प्यास बुझाना भारी पड़ रहा है। आश्चर्य की बात तो यह है कि मनरेगा के तहत प्रत्येक गांव में भारी भरकम तालाबों की खुदाई की गई है, मगर इन तालाबों में बूंद भर पानी नहीं है। मनरेगा के तहत खुदे तालाबों में ही नहीं, बल्कि लघु सिंचाई विभाग और सिंचाई एवं संसाधन विभाग ने भी तालाबों की खुदाई कराई है, मगर इन तालाबों में पानी नहीं है। आश्चर्य की बात तो यह है कि पानी जमा करने के लिए ही इन तालाबों की खुदाई की गई है, मगर पानी भरने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है। खुदाई के बाद विभागीय अधिकारी अब तालाबों की दशा देखने नहीं जा रहे हैं। इससे ग्रामीण इलाकों में पेयजल का संकट गहरा गया है।

नहरों में भी अभी पानी आने की उम्मीद नहीं

गर्मी का दौर प्रारंभ होते ही नहरों में पानी की आपूर्ति बंद कर दी गई है। इससे नहर और उसके आसपास के गड्ढों पानी नहीं है। पानी की तलाश में पशुओं को भटकना पड़ रहा है।

ग्राम पंचायतों पर होती है तालाबों के संरक्षण की जिम्मेदारी

गांव में स्थित तालाबों के संरक्षण की जिम्मेदारी ग्राम प्रधान और ग्राम विकास अधिकारी पर होती है। तालाब मनरेगा से खुदा हो या लघु सिंचाई विभाग ने खोदवाया हो, मगर तालाबों में पानी भराने की जिम्मेदारी ग्राम प्रधानों की होती है। मगर ग्राम प्रधान बजट का रोना रोते रहते हैं।

पानी भराने के लिए नहीं आता है कोई बजट

तालाबों में पानी भराने के लिए कोई बजट नहीं आता है। मगर प्रधान चाहे तो राजवित्त आयोग और चौदहवें वित्त आयोग से बजट से तालाबों में पानी भरवा सकते हैं। मगर प्रधान पानी भराने में दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं।

जिले के सभी प्रधानों को राजवित्त आयोग और चौदहवें वित्त आयोग से धनराशि खर्च करके सभी तालाबों में पानी भराने के लिए निर्देश दिया गया है। मगर अमल नहीं कर रहे हैं, बीडीओ के माध्यम से तालाबों में पानी भराने का अभियान चलाया जल्द चलाया जाएगा।

अरविंद सिंह, पीडी और प्रभारी डीडीओ।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Vil_zgAA

📲 Get Pratapgarh News on Whatsapp 💬