[pratapgarh] - जिले में रीबोर का इंतजार कर रहे 3987 हैंडपंप

  |   Pratapgarhnews

चिलचिलाती धूप से जहां तपिश बढ़ती जा रही है, वहीं जलस्तर नीचे खिसकने से हैंडपंप जवाब देते जा रहे हैं। जिले में चार हजार के करीब हैंडपंप रीबोर न होने से ठप पड़े हैं। डीएम ने प्रधानों से रीबोर कराने के लिए कहा है, लेकिन वह रुचि नहीं ले रहे हैं।

ग्रामीण इलाकों में जलस्तर खिसकते ही पेयजल का संकट गहरा गया है। कुओं के पूरी तरह नष्ट होने से ग्रामीण इलाके के लोग इंडिया मार्का हैंडपंप पर आश्रित हैं। जलनिगम के आंकड़ों पर गौर किया जाए तो अभी तक जिले में 58,600 हैंडपंप लग चुके हैं। शासन का जो मानक है, उसके मुताबिक 75 परिवारों के लिए एक हैंडपंप स्वीकृत है। इस आंकडे़ से यह साफ जाहिर है कि जिले में आवश्यकता से अधिक हैंडपंप लगे हैं।

मगर विभागीय अधिकारियों की मानें तो जिले में हैंडपंपों की मांग दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। ब्लाकों से प्राप्त सूचना के मुताबिक जिले के 3,987 हैंडपंपों का रीबोर होना है। मगर दुर्भाग्य यह है कि विभाग के पास फूटी कौड़ी नहीं है। सवाल यह उठता है कि जलनिगम के पास बजट नहीं है और ग्राम पंचायतें रीबोर कराना नहीं चाहती हैं। फिर सार्वजनिक स्थल पर लगे हैंडपंपों को कौन ठीक कराएगा। प्रधानों ने अपने चहेतों का हैंडपंप तो रीबोर करा दिया, मगर जिन लोगों ने चुनाव में विरोध किया था, उनका हैंडपंप ठीक कराने को तैयार नहीं हैं। अधिकारियों से शिकायत करने के बाद भी हाथ खड़े कर देते हैं। अगर इन हैंडपंपों को रीबोर नहीं कराया जाता है, तो आने वाले दिनों में पेयजल संकट और गहरा सकता है।

पानी के लिए परेशान हैं बच्चे

संडवा चंद्रिका विकास खंड के पूर्व माध्यमिक विद्यालय लोहंगी में लगा हैंडपंप साल भर से खराब है। प्रधानाध्यापक की मानें तो, बगैर रीबोर किए हैंडपंप से पानी नहीं निकलेगा। अधिकारियों से कई बार शिकायत कर हैंडपंप ठीक कराने को कहा गया, मगर अभी तक हैंडपंप ठीक नहीं होने से बूंद-बूंद पानी के लिए बच्चे भटक रहे हैं।

हैंडपंपों का रीबोर कराने का अधिकार ग्राम पंचायतों को दिया गया है। जो प्रधान जानबूझकर रीबोर नहीं करा रहे हैं, उन्हें चिह्नित करके उनके खिलाफ जल्द कार्रवाई की जाएगी। अगर किसी ग्राम पंचायत बजट नहीं है, तो वह क्रेडिट पर काम करा सकता है, धनराशि जल्द ही खाते में भेजी जाएगी।

शशिकांत पांडेय, डीपीआरओ।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/lbL41AAA

📲 Get Pratapgarh News on Whatsapp 💬