[shimla] - खुल गई पोल, बिना पात्रता सरकारी स्कूलों में पढ़ा रहे 9000 शिक्षक

  |   Shimlanews

हिमाचल के प्राइमरी स्कूलों में गुणात्मक शिक्षा देने के सरकारी दावों की पोल खुल गई है। सूबे में करीब नौ हजार शिक्षक बिना पात्रता सरकारी प्राइमरी स्कूलों में बच्चों को पढ़ा रहे हैं। उन्होंने न तो जूनियर बेसिक ट्रेनिंग (जेबीटी) कर रखी है और न ही उनके पास पात्रता के लिए कोई जरूरी डिग्री है।

विभिन्न श्रेणी के इन शिक्षकों को बाकायदा सरकार ने नियुक्त किया है। आरटीई की शर्तों के चलते जब इनकी नौकरी पर तलवार लटकने की नौबत आई तो इन्होंने राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान (एनआईओएस) में डिप्लोमा इन एलीमेंटरी एजूकेशन (डीएलएड) के लिए आवेदन कर दिया।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/lVXgHAAA

📲 Get Shimla News on Whatsapp 💬